350वें गुरु पर्व के ऐतिहासिक आयोजन पर बनी फ़िल्म ‘शुकराना गुरु का’ का हुआ लोकार्पण

सिख धर्म के दसवें तीर्थांकर गुरू गोविंद सिंह महाराज के 350वें गुरु पर्व के ऐतिहासिक आयोजन को संरक्षित करने के एक अनुपम प्रयास के तहत ग्रेट इंडिया शो द्वारा निर्मित फ़िल्म ‘शुकराना गुरु का – mesmerising memories of 350th Guru Parv’ का लोकार्पण भारतीय नृत्‍य कला मंदिर, पटना में बिहार के पर्यटन मंत्री श्री प्रमोद कुमार के द्वारा किया गया। इस मौके पर उन्‍होंने कहा कि यह फिल्‍म बिहार के अतिथि देवो परंपरा का दस्‍तावेज है, जो गुरू गोविंद सिंह महाराज के 350वें प्रकाशवर्ष और उसमें बिहार की भूमिका को दिखाता है।

नौकरशाही डेस्‍क

मंत्री ने कहा कि गुरू गोविंद सिंह के माध्‍यम से दुनिया भर में बिहार का मान का बढ़ा और दुनिया भर में लोगों ने बिहार और यहां के लोगों की संस्‍कृति व उनके सेवाभाव को देखा है। पहले 350वां प्रकाश वर्ष और फिर उसके बाद शुकराना समारोह ने दुनिया भर में ये संदेश दिया कि हम बिहारी गुरू की धरती से आते हैं। यह हमारे लिए गौरवपूर्ण है। मंत्री ने पर्यटन विभाग के निदेशक श्री अशोक कुमार सिंह के उस बात का समर्थन किया, जिसमें उन्‍होंने कहा था कि पर्यटन विभाग द्वारा ऐसी फिल्‍में बनाने वाले कलाकारों को सूचीबद्ध कर विभाग के अन्‍य कार्यक्रमों में फिल्‍म बनाने के लिए अवसर प्रदान किये जाये।

वही, 350वें गुरूपर्व के चेयरमैन रहे गुरिंदर पाल सिंह ने फिल्‍म फ़िल्म ‘शुकराना गुरु का – mesmerising memories of 350th Guru Parv’ देखने के बाद निखिल प्रकाश को बधाई देते हुए कहा कि गुरू गोविंद सिंह मानवता के गुरूवार थे। उनके शताब्‍दी वर्ष पर बनी यह फिल्‍म वाकई लाजवाब है। जब हम इसको देख रहे थे, तब हमारे सामने वो नजारा आ रहा था, जो हमने इस ऐतिहासिक आयोजन को सफल बनाने की  तैयारियां कर रहे थे। भाजपा सांस्‍कृतिक प्रकोष्‍ठ के अध्‍यक्ष वरूण कुमार सिंह ने कहा कि यह परिकल्‍पना ही अपने आप में लाजवाब है। इस फिल्‍म को ज्‍यादा से ज्‍यादा लोगों को दिखाने की जरूरत है।

इस मौके पर ग्रेट इंडिया शो के संस्थापक व फ़िल्म निर्देशक श्री निखिल प्रकाश ने कहा कि  बिहार की सांस्कृतिक वैभव को प्रदर्शित करती इस फ़िल्म के केंद्र में गुरु पर्व को रख कर बिहार के इस ऐतिहासिक आयोजन को कैमरे की नज़र से सहेजने अभूतपूर्व प्रयास किया गया है। फिल्म की कहानी मूल रूप से गुरु पर्व के अवसर पर दुनिया के कोने-कोने से लाखों श्रद्धालुओं के उस बिताये पल और अनुभवों पर आधारित है । इस ऐतिहासिक आयोजन को सफल बनाने में बिहार सरकार, तख़्त श्री हरमंदिर साहिब गुरुद्वारा कमेटी, पटना पुलिस-पुलिस, ट्रैफिक पुलिस एवं साथी हज़ारों कार्यकर्ताओं के अमूल्य योगदान को रेखांकित करती है ये फ़िल्म।

उन्‍होंने कहा कि 350वां गुरु पर्व समस्त बिहार वासियों के लिए एक ऐतिहासिक आयोजन था। इस से बिहार की ख्याति पूरी दुनिया भर में हुई। एक बिहारी के तौर पर उन्हें आत्मगौरव का अनुभव। सरकार, प्रशासन व सभी कार्यकर्ताओं के प्रति उनके दिल आभार प्रकट करने की प्रबल इच्छा थी। इस फ़िल्म के माध्यम से ग्रेट इंडिया शो 350वें गुरु पर्व के आयोजन को सफल बनाने में लगे पटना व पूरे बिहार के लोगों को धन्यवाद ज्ञापन देना चाहते हैं। उन्‍होंने बताया कि ग्रेट इंडिया शो भारत के सामाजिक, ऐतिहासिक,सांस्कृतिक धरोहरों के संरक्षण व उनके प्रचार प्रसार के लिए समर्पित है। सांस्कृतिक पुनर्जागरण को समर्पित ये कंपनी सांस्कृतिक मुद्दो पर फ़िल्म निर्माण ही उसका उद्देश्य है।

इस कार्यक्रम का संयोजन और संचालन रंगकर्मी रवि कांत ने किया। जबकि गुरूद्वारा धर्म प्रचार कमिटी के चेयरमैन महेंद्र पाल सिंह जी, गुरूद्वारा प्रबंधक कमेटी की वाइस प्रेसिडेंट श्रीमती कंवलजहत कौर, गुरूद्वारा प्रबंधक कमेटी के सेक्रेटरी महेंद्र सिंह छाबरा, समाज सेवक मुकेश हिसारिया, सुमित सिंह कलसी समेत पटना के कला प्रेमी भी उपस्थित रहे। कार्यक्रम के दौरान विभिन्‍न लोगों को मंत्री प्रमोद कुमार ने सम्‍मानित भी किया।

About Editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*