MJ Akbar पर यौन उत्पीरड़न का आरोप, भाजपा महिला मंत्री ने दिया शर्मनाक बयान

MJ Akbar पर यौन उत्पीरड़न के आरोप पर भाजपा महिला मंत्री ने दिया महिला विरोधी बयान

MJ Akbar ने उस रोज अपने केबिन में बुलाया, मुझे दबोच लिया और फिर…

केंद्रीय विदेश राज्य मंत्री एमजे अकबर पर एक के बाद एक करके सात महिलाओं ने यौन उत्पीड़न का सनसनीखेज आरोप लगाने से देश भर में खलबली मची है वहीं दूसरी तरफ इस मामले में मध्यप्देश भाजपा की महिला अध्यक ने महिला विरोधी बयान दे कर बड़ा विवाद खड़ा कर दिया है।
मध्यप्रदेश भाजपा महिला विंग की अध्यक लता केलकर ने कहा कि मैं मीटू अभियान का समर्थन करती हूं लेकिन मैं नहीं मानती कि महिला पत्रकार इतनी मासूम होती हैं कि उनका कोई मिसयूज कर ले।
. फिलहाल केंद्रीय विदेश राज्य मंत्री एमजे अकबर पर लगे यौन उत्पीड़न के आरोपों के बाद मोदी सरकार विपक्ष के निशाने पर है, मगर अभी तक इस पर सरकार की ओर से कोई बयान नहीं आया है.
 
 
हालांकि इस मामले में स्मृति ईरानी ने कहा कि इस मामले में महिला पत्रकारों के साहस की वह सराहना करती हैं लेकिन इस बारे में वह ज्यादा कुछ नहीं कह सकती क्योंकि जब यह घटना हुई तो वह वहां मौजूद नहीं थी. उन्होंने कहा कि इस बारे में वह( अकबर ही) जवाब दे सकते हैं.
दरअसल, #MeToo कैंपने के तहत पत्रकार रह चुके केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर (M J Akbar) पर यौन उत्पीड़न के आरोप लगे हैं. अपने समय के मशहूर संपादक व वर्तमान में केंद्रीय विदेश राज्य मंत्री एम.जे.अकबर पर 7 महिला पत्रकारों ने यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए हैं. जिसे लेकर मोदी सरकार विपक्ष के निशाने पर आ गई है और कांग्रेस एमजे अकबर के इस्तीफे की मांग कर रही है.
पिछले पांच दिनों से अकबर पर एक एक कर के सात महिला पत्रकारों ने आरोप लगाया है लेकिन अभी तक अकबर की तरफ से कोई बयान नहीं आया है.
अकबर इस समय अफ्रीकी देश नाइजेरिया के दौरे पर हैं।
हालांकि, सरकारी सूत्र इस मुद्दे पर खुद एमजे अकबर के बयान का इंतजार कर रहे हैं. मीडिया में ऐसी खबरें हैं कि सरकार पर इस्तीफे का दवाब बढ़ रहा है और सरकार एमजे अकबर से इस्तीफे की मांग कर सकती है. मगर सरकार के टॉप सूत्रों ने ऐसी खबरों को सिरे से खारिज किया है. सरकार के टॉप सूत्रों का कहना है कि एमजे अकबर के इस्तीफे को लेकर जितने भी खबरें हैं, सभी काल्पनिक हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*