मोदी को डिवाइडर इन चीफ बतानेवाले आतिश हैं शिवभक्त

मोदी को डिवाइडर इन चीफ बतानेवाले आतिश हैं शिवभक्त

टाइम मैगेजिन में 2019 लोकसभा चुनाव से पहले मोदी को डिवाइडर इन चीफ बतानेवाले आतिश तासीर दरअसल शिवभक्त हैं। तब उन्हें भारत और हिंदू विरोधी बताया गया था।

कुमार अनिल

2019 से पहले आतिश तासीर को भारत में कम ही लोग जानते थे। लोकसभा चुनाव से पहले दुनिया की प्रतिष्ठित पत्रिका टाइम में आतिश ने एक लेख लिखा-जिसका शीर्षक था डिवाइडर इन चीफ। टाइम के कवर पेज पर शीर्षक के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीर थी। इस आलेख में उन्होंने प्रधानमंत्री की नीतियों की आलोचना की थी। उन पर धर्म के आधार पर भेदभाव करने की बातें बी लिखी थीं। रिपोर्ट छपने के बाद सोशल मीडिया पर उन्हें खूब गालियां मिली थीं। यहां तक कि भारत सरकार ने उनका ओसीआई कार्ड रद्द कर दिया था। यह दूसरे देशों में रह रहे लोगों को भारतीय नागरिकता है।

राजद ने पूछा राज्य में कितने कुर्मी नौकरशाह, हम बताते हैं इतने

अब मालूम हुआ कि आतिश तासीर दरअसल शिवभक्त हैं। हुआ यो कि आज उन्होंने अपनी एक तस्वीर ट्विट की है, जिसमें वे कोरोना का टीका ले रहे हैं। टीका लेने के लिए बांह खुली हुई है और ऊपर भगवान शिव का टैटू बना हुआ है। अपनी बांह पर वे कुछ भी टैटू बनवा सकते थे, जैसा कि कोहली सहित कई क्रिकेटरों की बांहों पर देखा जा सकता है। लेकिन आतिश ने शिव का ही टैटू बनवाया है।

कौन हैं आतिश तासीर

आतिश तासीर ने खुद अपने बारे में लिखा है कि उनकी मां सिख है। नाम तवलीन सिंह, जो भारतीय लेखिका हैं। बायलोजिकल पिता पाकिस्तानी हैं। नाम है सलमान तासीर। सलमान तासीर पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के बड़े नेता थे। वे पाकिस्तान के ईशनिंदा कानून के विरोधी थे। इसीलिए उनकी हत्या हुई। आतिश ने खुद अपने बारे में ट्विट किया था कि उनके एडोप्टेड (दत्तक) पिता हिंदू हैं। आतिश ने बताया है कि उनके सारे डॉक्यूमेंट में धर्म का कॉलम खाली हैं।

जब तेजस्वी सवाल उठाते हैं, तभी सक्रिय होती है सरकार : राजद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*