मुस्लिम महिलाओं ने निकाली तिरंगा यात्रा, किया किसानों का समर्थन

मुस्लिम महिलाओं ने निकाली तिरंगा यात्रा, किया किसानों का समर्थन

मुंगेर में मुस्लिम महिलाओं ने तिरंगा यात्रा निकाल कर किसानों का समर्थन किया, मुंबई में भी किसान रैली, बुजुर्ग महिला किसान ने फहराया तिरंगा।

तीन कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग पर देशभर में चल रहे किसान आंदोलन के समर्थन में आज गणतंत्र दिवस के असर पर मुंगेर में मुस्लिम महिलाओं ने तिरंगा यात्रा निकाली। महिलाएं अपने साथ 100 मीटर का तिरंगा लेकर चल रही थीं।

मुंगेर के दिलावरपुर से मुस्लिम महिलाओं ने तिरंगा यात्रा निकाली, जो शहर के विभिन्न हिस्सों से गुजरते हुए वापस दिलावरपुर आया। मुस्लिम महिलाएं इस दौरान जय जवान-जय किसान का नारा लगा रही थीं। महिलाओं ने कहा कि देश के किसान अपने खेतों को अडानी-अंबानी से बचाने के लिए संघर्ष कर रहे हैं। महिलाओं का कहना था कि किसानों का समर्थन अगर हमने आज नहीं किया, तो कल मध्य वर्ग को दोगुने दाम पर आटा-चावल खरीदना पड़ेगा। किसान आंदोलन भारत के भविष्य की लड़ाई है।

Tractor Parade कहीं हिंसक हुई पुलिस, कहीं किसानों का उत्पात

उधर, मुंबई में तीन दिनों से जारी किसानों का आंदोलन आज तिरंगा फहराने के साथ समाप्त हो गया। आज सुबह एक वृद्ध किसान महिला ने तिरंगा फहराया। मालूम हो कि मुंबई के आजाद मैदान में किसान तीन दिनों से जमा थे।

दिल्ली में जारी किसान आंदोलन के समर्थन में महाराष्ट्र के विभिन्न जिलों से किसान मुंबई में जमा हुए थे। सोमवार के किसानों की रैली में एनसीपी प्रमुख शरद पवार भी शामिल हुए।

कर्नाटक के विभिन्न जिलों के किसान भी आज बड़ी संख्या में बेंगलुरु में जमा हुए। यहां हुई किसान रैली को जन-गण राज्योत्सव परेड नाम दिया गया था। रैली का आयोजन कर्नाटक राज्य रायथा संघ ने किया था। इसमें वाम दलों के नेता भी शामिल थे। रैली में किसान तीनों कृषि कानून वापस लेने की मांग कर रहे थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*