NDA की संकल्प रैली के बाद सोशल मीडिया पर ये तस्वीरें क्यों वॉयरल हो रही हैं?

NDA की संकल्प रैली के बाद सोशल मीडिया पर ये तस्वीरें क्यों वॉयरल हो रही हैं ?

NDA की संकल्प रैली में जुटे लोगों की संख्या पर बढ़बोले दावे करके खुद NDA के नेता ही घिर गये हैं. उन्होंने दावा किया था कि यह रैली तमाम पिछली रैलियों का रिकार्ड तोड़ देगी. लेकिन इस रैली में जुटी उम्मीद से कम भीड़ नेNDA नेताओं की बोलती बंद कर दी है.

लेकिन  इस रैली के बाद सोशल मीडिया पर अब जिस तस्वीर पर खूब चर्चा हो रही है. वह है रैली के बाद NDA की तीनों पार्टिया- भाजपा, जदयू व लोजपा के झंडों को कचरे में फेंकने वाली तस्वीर. इस तस्वीर में दिख रहा है कि लोगों ने न सिर्फ झंडों को कचरे में डाल दिया बल्कि उसे अपनी जूतियों तले रौंद भी रहे हैं.

यह भी पढ़ें-  पीएम पटना में भाषण देते रहे ट्विटर पर #BiharRejectsModi टॉप ट्रेंड करता रहा

ये तस्वीरें सोशल मीडिया पर खूब शेयर की जा रही है. लोग सवाल उठा रहे हैं कि जो झंडे राजनीतिक आदर्श का प्रतीक होते हैं उसका अपमान करने से ये बात जाहिर हो गयी है कि लोगों को इन झंडों के प्रति कोई सम्मान नहीं है.

यह भी पढ़ें- मंच के साथ बदलता गया पीएम मोदी का भाषण, भाषा और भाव

NDA की पार्टियों के झंडे का अपमान

झंडों के इस अपमान मामले में तेजस्वी यादव भी कूद पड़े और कहा कि  “जब नेता दिल में नहीं तो उसका झंडा हाथ में कहाँ रहेगा? जिस पार्टी का मुखिया मौसम पलटने से पहले पलटी मारता हो उसके समर्थक उसके झंडे और तस्वीर कूड़ेदान में ही फेंकेंगे”।‬

‪ तेजस्वी ने कहा कि ‘ धननेता की भीड़ उसके साथ ऐसा ही हश्र करती है। धननेता बनने के किए पलटी मारनी पड़ती है और जननेता बनने के लिए जेल जाना पड़ता है’

इन तस्वीरों को पोस्ट करते हुए लोगों ने फेसबुक और ट्विटर पर  NDA के प्रति घटते लगाव के रूप में लिया है. लोग बता रहे हैं कि धन के बेजा इस्तेमाल करने का भी यह परिणाम है कि लोगों ने इन झंडों को यूज करने के बाद कुड़ेदान में फेक डाला.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*