दागी मंत्रियों पर नीतीश का टाल मोटल, तेजस्वी हुए हमलावर

दागी मंत्रियों पर नीतीश का टाल मोटल, तेजस्वी हुए हमलावर

तेजस्वी ने चेताया बिहार कोरोना ज्वालामुखी पर खड़ा है, सरकार अकर्मण्य बनी
दागी मंत्रियों पर नीतीश का टाल मोटल, तेजस्वी हुए हमलावर

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपनी काबीना के 18 दागी मंत्रियों के सवाल पर गोलमोल जवाब दे कर बचते नजर आये तो तेजस्वी ने उनपर निशाना साधा है.

तेजस्वी ने कहा है कि बिहार के महान कुर्सीवादी मुख्यमंत्री को पता ही नहीं है कि उनके मंत्रिमंडल में शामिल 18 मंत्रियों के खिलाफ हत्या,लूट,भ्रष्टाचार, यौन शोषण,आर्म्स एक्ट,चोरी,जालसाजी,धोखाधड़ी जैसे गंभीर आपराधिक मामले दर्ज है?

दर असल पत्रकारों ने नीतीश कुमार से पूछा कि उनके मंत्रिमंडल के 18 मंत्रियों पर अपराध के संगीन मामले दर्ज हैं. इसके जवाब में नीतीश कुमार ने कहा कि “आप लोग देखिए क्या मामला है. हमने नहीं देखा. कोई एलेक्ट हो कर आया है. अगर ऐसी बात होगी तो हमको भी जरा बताइएगा”.

सुनिये नीतीशजी, आपके 18 दागी मंत्रियों को हटावाये बिना नहीं छोड़ेंगे

पत्रकारों को नीतीश के इस जवाब पर तेजस्वी ने ट्वीट कर कहा है कि क्या इतने भोले-भाले मुख्यमंत्री को कुर्सी पर बने रहने का नैतिक अधिकार है?

आपको याद दिला दें कि पिछले दिनों मंत्रिमंडल के विस्तार के बाद 17 नये मंत्री शामिल किये गये हैं. इसके बाद एसोसिएशन ऑफ डेमोक्रेटिक रिफार्म्स ( ADR- Association of Democratic Reforms) ने एक विधायकों के शपथ पत्र के आधार पर बताया है कि नीतीश मंत्रिमंडल के 18 मंत्रियों पर सामान्य से ले कर संगीन किस्म के आपराधिक मामले दर्ज हैं.

मीडिया में जब यह खबर छपी तो राजद के नेता शक्ति यादव ने नीतीश कुमार को याद दिलाया कि हमारे नेता तेजस्वी यादव पर साजिश के तहत मामला दर्ज किया गया तो नीतीश कुमार ने हमारी सराकर से अलग हो कर भाजपा के साथ सरकार बना ली थी. लेकिन आज उनके मंत्रिमंडल में आपराधिक आरोप के मंत्री हैं तो उन्हें वैसे मंत्रियों को हटाना होगा वर्ना हम सदन से सड़क तक विरोध करेंगे.

ऐसे में नीतीश कुमार पर राजद नेताओं को सवाल यही है कि मेवालाल चौधरी पर भ्रष्टाचार के आरोप थे तो राजद के दबाव में उन्हें मंत्रिमंडल से हटाया गया. अब इन 18 मंत्रियों को भी हटाया जाना चाहिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*