नीतीश ने मोदी को दे दिया चैलेंज, 2014 वाले 2024 में रहेंगे क्या?

नीतीश ने मोदी को दे दिया चैलेंज, 2014 वाले 2024 में रहेंगे क्या?

आज नीतीश कुमार और तेजस्वी यादव ने क्रमशः मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री की शपथ ले ली। शपथ के बाद नीतीश कुमार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दे दिया चैलेंज।

नीतीश कुमार ने एक बार फिर मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। उनके बाद तेजस्वी यादव ने उप मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली। शपथ के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सीधे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चैलेंज दे दिया। बिना नाम लिये कहा कि 2014 में जीतने वाले 2024 की चिंता करें। उन्होंने इशारों में कह दिया कि 2014 वाले 2024 में नहीं आ रहे हैं। इस तरह शपथ लेते ही नीतीश कुमार ने अपने इरादे साफ कर दिए। अब भाजपा और संघ की हिंदुत्व की राजनीति के खिलाफ बिहार एक बड़ी लड़ाई का नेतृत्व करने को तैयार है।

सोशल मीडिया में नीतीश कुमार की वह एक लाइन वायरल हो गई है-2014 में जो आए थे, वो 2024 में नहीं आएंगे। भाजपा और संघ की विचारधारा के खिलाफ अभी बहुत कुछ सामने आना बाकी है। थोड़ी देर में जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह प्रेस वार्ता करनेवाले हैं।

इधर राजद में जबरदस्त उत्साह दिख रहा है। नीतीश कुमार भी जल्द ही प्रेस वार्ता करेंगे। उसके बाद बिहार में भाजपा के खिलाफ संघर्ष की लाइन खींच जाएगी।

जदयू और राजद की कोशिश होगी कि 2024 लोकसभा चुनाव में भाजपा को एक भी सीट जीतने न दिया जाए। इसके लिए अभी से राजनीतिक और सांगठनिक तैयारी शुरू हो जाएगी।

इस बीच नीतीश-तेजस्वी की नई सरकार को कई संगठनों ने बधाई और शुभकामना दी है। आल इंडिया पीपुल्स फ्रन्ट की के राष्ट्रीय अध्यक्ष एसआर दारापुरी और बिहार इकाई के नेता पूर्व विधायक रमेश कुशवाहा ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव को बधाई देते हुए कहा कि नीतीश कुमार ने भाजपा की सांप्रदायिक एवं जनविरोधी राजनीति से पिंड छुड़ा कर स्वागतयोग्य कार्य किया है। आईपीएफ की राष्ट्रीय कार्य समिति ने विश्वास व्यक्त किया है कि बिहार की यह घटना राष्ट्रीय राजनीति को प्रभावित करेगी, इससे एक नया राजनीतिक ध्रुवीकरण होगा जो भारतीय जनता पार्टी को 2024 के लोकसभा चुनाव में शिकस्त देगा।

नीतीश-तेजस्वी के सामने होंगी दो अलग-अलग चुनौतियां, अवसर भी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*