राजगीर में पर्यटकों की सुविधाओं पर नीतीश ने दिया जोर

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राजगीर में निर्माणाधीन रोपवे का भ्रमण कर प्रगति कार्यों का जायजा लिया। श्री कुमार ने निरीक्षण के क्रम में अधिकारियों से निर्माणाधीन रोपवे के मद्देनजर पर्यटकों की सुविधा एवं सुरक्षा के साथ-साथ हर पहलू को ध्यान में रखते हुए पूरी जानकारी ली।

निरीक्षण के बाद अधिकारियों के साथ बैठक कर मुख्यमंत्री ने कई दिशा निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सबसे पहले यहां बिजली की कनेक्टिविटी का काम पूर्ण करें। इसके अलावा टिकट केंद्र सह कार्यालय के जर्जर भवन को तोड़कर नया सिम्पल स्ट्रक्चर बनाने की दिशा में अग्रतर कार्रवाई करें क्योंकि जर्जर भवन के कारण कभी भी दुर्घटना घट सकती है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि यदि जरूरत पड़े तो रोपवे को टेकनिकली चलाते हुए कुछ समय के लिए वहां पर्यटकीय गतिविधि बंद कर दें। उन्होंने कहा कि निर्माणाधीन आकाशीय रज्जु मार्ग राजगीर में बने देश के पहले रोपवे के समानांतर बंद केबिन का होगा। श्री कुमार ने कहा कि पहाड़ के ऊपर ज्यादा स्ट्रक्चर नहीं होना चाहिए और यहां जो स्ट्रक्चर बन रहा है उनमें बेवजह एयर कंडीशनर लगाने की आवश्यकता नहीं है। इससे पर्यावरण प्रभावित होता है। उन्होंने कहा कि अक्टूबर से मार्च के बीच यहाँ अधिकांशतः पर्यटक आते हैं जिसको ध्यान में रखते हुए आवश्यकता के अनुरूप पंखा या एयर कूलर का प्रबंध होना चाहिए।
मुख्यमंत्री ने पहले से चल रहे रोपवे के टिकट शुल्क में कमी करने का भी अधिकारियों को निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि 80 रुपये का टिकट कटाने में गरीब आदमी असहज महसूस करते होंगे और इच्छा के बावजूद भी रोपवे की सुविधा से वे वंचित रह जाते होंगे।
इस अवसर पर भवन निर्माण मंत्री अशोक चौधरी, पर्यटन मंत्री कृष्ण कुमार ऋषि, मुख्यमंत्री के परामर्शी अंजनी कुमार सिंह, सांसद कौशलेंद्र कुमार, विधायक रवि ज्योति समेत संबंधित विभागों के अन्य वरीय अधिकारी उपस्थित थे। उधर, बिहार के पर्यटन मंत्री कृष्ण कुमार ऋषि ने कहा कि नवादा के ककोलत जलप्रपात और हरदिया डैम को पर्यटन स्थल के रूप में विकसित किया जाएगा।

श्री ऋषि ने आज नवादा के गोविंदपुर पहाड़ी स्थित ककोलत जलप्रपात और रजौली स्थित हरदिया डैम का मुआयना किया। उन्होंने कहा कि ककोलत बिहार का अनमोल उपहार है। इसे विकसित किए जाने की दिशा में पहल किया जा रहा है। बुनियादी सुविधा उपलब्ध कराने की दिशा में कई कदम उठाए जा रहे हैं। सड़क की मरम्मति की जाएगी।

पर्यटन मंत्री ने कहा कि हरडिया डैम का दृश्य भी काफी अच्छा है। डैम को भी पर्यटन स्थल के रूप में विकसित किया जाएगा। इस मौके पर जिलाधिकारी कौशल कुमार समेत कई अधिकारी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*