नोटों की खेती करनेवालों ने लाया तीन कृषि कानून : प्रियंका

नोटों की खेती करनेवालों ने लाया तीन कृषि कानून : प्रियंका

आज कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने मथुरा में किसान महापंचायत की। कहा-अपना गोवर्धन पर्वत संभाल कर रखिए, कहीं इसे भी बेच न दे सरकार।

कुमार अनिल

देश में किसान आंदोलन दिल्ली की सीमाओं से बाहर फैलता ही जा रहा है। आज कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने मथुरा में किसान महापंचायत की, तो राष्ट्रीय लोकदल के जयंत चौधरी ने पहली बार पूर्वी उत्तर प्रदेश के बस्ती में किसानों को संबोधित किया।

आज मथुरा में प्रियंका गांधी ने अपने भाषण की शुरुआत राधे-राधे कहकर की। कहा- जिस तरह इंद्र के अहंकार को कृष्ण ने तोड़ा ता, उसी तरह वे इस सरकार के अहंकार को भी तोड़ेंगे। मथुरा की धरती अहंकार तोड़ने वाली धरती है।

प्रियंका ने कहा कि प्रधानमंत्री दुनिया के हर कोने में गए, पर उन्हें दिल्ली की सीमा पर बैठे किसानों के बीच जाने का समय नहीं है। तीन कृषि कानूनों पर कहा कि ये कानून किसी किसान से पूछ कर नहीं लाया गया। दरअसल ये कानून नोटों की खेती करनेवालों ने लाया है। ये कानून उन्हीं के फायदे में भी है।

विस में मुख्यमंत्री को उन्हीं के एजेंडे पर तेजस्वी ने घेरा

प्रियंका ने सीधा प्रधानमंत्री को घेरते हुए कहा कि गन्ना किसानों का सरकार पर बकाया 15 हजार करोड़ रुपए है। सरकार ने किसानों का बकाया नहीं दिया, पर खुद प्रधानमंत्री ने अपने लिए 16 हजार करोड़ रुपए का हवाई जहाज खरीदा है।

केंद्र सरकार ने अपने खरबपति मित्रों के लाखों करोड़ कर्ज माफ कर दिए, पर किसानों को उसकी फसल की कीमत देना नहीं चाहती।

IPS ने बताया छात्रों के दिमाग में कैसे भरा जा रहा जहर

प्रियंका आज पूरे लय में दिखीं। कहा-आजकल हर चीज बिक रही है। एयरपोर्ट बिक रहा है, भारत पेट्रोलियम बिक रहा है, मथुरा वालों अपना गोवर्धन पर्वत संभाल कर रखना, ये सरकार कहीं इसे भी न बेच दे। उन्होंने बार-बार किसानों की बदहाली का जिक्र करके सरकार पर हमला किया।

इधर बिहार में कांग्रेस लगातार गांवों में किसान सत्याग्रह यात्रा कर रही है। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की तरफ से नियुक्त प्रभारी भक्तचरण दास के नेतृत्व में पार्टी नेता लगातार गांवों में पदयात्रा कर रहे हैं। यात्रा में गुंजन पटेल के साथ युवा कांग्रेस के कार्यकर्ता भी शामिल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*