बिहार में NRC हुआ लागू, अधिकारी की चिट्ठी उजागर, तेजस्वी ने कहा पकड़ा गया नीतीश का झूठ

बिहार में NRC हुआ लागू, अधिकारी की चिट्ठी उजागर, तेजस्वी ने कहा पकड़ा गया नीतीश का झूठ

 

दीपक कुमार, बिहार ब्यूरो प्रमुख

बिहार के एक आधिकारिक पत्र से यह पता चलता है कि बिहार में NRC लागू करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गयी है. इस पत्र में तीन स्कूल हेडमास्टर को धमकी भरे लहजे में आदेश दिया गया है कि वह NRC से जुड़े प्रशिक्षण के लिए अपने दो शिक्षकों की सूची भेजें.

इस आधिकारिक पत्र को नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव व राजद प्रमुख लालू प्रसाद के ट्विटर अकाउंट से अलग अलग शेयर किया गया है.

 

इस पत्र में प्रखंड विकास पदाधिकारी मोकामा ने 28 फरवरी को एक कड़ा पत्र तीन स्कूल के हेडमास्टरों को लिखा है जिसमें कहा गया है कि आप से दो शिक्षकों की सूची मांगी गयी थी. इन शिक्षकों को एनआरसी की प्रक्रिया में शामिल होने के लिए प्रशिक्षण दिया जाना है. लेकिन आप ने वह सूची अब तक नहीं दी. आपको निर्देश दिया जाता है कि शीघ्र यह सूची प्रेसित करें वर्ना आपके खिलाफ सख्त कार्रवाई के लिए वरिष्ठ अधिकारियों को लिखा जायेगा.

इतना ही ने प्रखंड विकास पदाधिकारी ने इन हेडमास्टरों पर आरोप लगाया है कि लगता है कि आप किसी खास राजनीतिक दल से संबद्ध हैं.

हालांकि अभी तक यह स्पष्ट नहीं हुआ है कि बिहार में एनआरसी लागू करने संबंधी आदेश उच्चपदाधिकारियों के निर्देश पर दिये गये हैं या प्रखंड विकास पदाधिकारी ने खुद ही अपनी मर्जी से यह पत्र जारी कर दिया है. इस मामले में सरकार के उच्चस्तरीय पदाधिकारियों की टिप्पणी का इंतजार है.

 

लालू प्रसाद ने कहा है कि NRC-NPR पर पकड़ा गया श्री नीतीश कुमार जी का सफ़ेद झूठ। बिहार में शुरू हो चुका है NRC-NPR का काम। अधिकारी की चिट्ठी ने खोला राज। अभी NPR का कार्य किसी भी प्रदेश में शुरू नहीं हुआ है लेकिन बिहार में NRC की प्रक्रिया नीतीश जी ने शुरू कर दी। अब आपको तय करना है असली संघी कौन है ?

वहीं तेजस्वी के अलावा लालू प्रसाद ने भी इस पत्र को ट्विट करते हुए लिखा है कि CAA NRC को लागू करने के बारे में दक्षिपथी भी भय खा रहे हैं लेकिन नीतीश कुमार जो खुद को गांधीवादी व समाजवादी होने का दावा करते हैं, ने बिहार में NRC लागू कर दिया है.

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*