CAA के खिलाफ लालू के भोजपुरिया ट्विट का राबड़ी ने दिया भोजपुरिया जवाब फंसे नीतीश

CAA के खिलाफ लालू के भोजपुरिया ट्विट का राबड़ी ने दिया भोजपुरिया जवाब फंसे नीतीश

लालू प्रसाद को खूब पता है कि CAA और NRC का सबसे बुरा असर गांव-गरीब लोगों पर पड़ेगा. इसलिए उन्होंने भोजपुरी में इसके खिलाफ ट्विट किया तो राबड़ी देवी ने भी ट्विट को रिट्विट करके भोजपुरी में ही अपना संदेश दिया है.

लालू ने नीतीश कुमार को निशाना बनाते हुए लिखा कि “पलटूराम रंग बदलने में माहिर बाड़न। एक तरफ जनता के पीठ में छुरा भोके के काम करतारन ओही दुसर ओर गरीब के नागरिकता छिने खातिर सदन में समर्थन कईले बाड़न”

इस ट्विट को रिट्विट करते हुए राबड़ी देवी ने लिखा “ई एकदम काला कानून बा! विनाश काले विपरित बुद्धि के चरितार्थ करता लोग। सरकार नौटंकी कर रहल बा। ई काला कानून लागू करे खातिर जागृति अउरू समर्थन खातिर शिविर लगावता ओउरू एगो कानून लागू ना होखे के बात कर रहल बा। बाकि जनता होशियार बा। एकनी के झांसा में जनता अब ना आई”।

 

लालू प्रसाद ने ट्विट में कहा है कि जिसके मांबाप पढ़े लिखे नहीं हैं और उनके पूर्वजों के नाम पर जमीन जायदाद नहीं इस कानून के कारण वे देश की नागरिकता खो सकते हैं.

उन्होंने ठेंठ भोजपुरी में लिका  “जेकर बाप-दादा पढ़ल-लिखल नईखन अउरू ओकर बाप-दादा के नाम से कउनो जमीन जायदाद नईखे। एह बिल कारण उ एह देष के नागरिक ना मानल जाई”।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*