केंद्र से पान-मसाले के निर्माण पर रोक की मांग

बिहार सरकार ने पान मसाला पर रोक लगाए जाने के बाद अब केंद्र से पान मसाला बनाने वाली कंपनियों पर भी राज्य में प्रतिबंध लगाए जाने का आग्रह किया है। आधिकारिक सूत्रों ने आज यहां बताया कि बिहार के स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने इस सिलसिले में केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के सचिव को पत्र लिखकर आग्रह किया है। श्री कुमार ने कल इस संबंध में मंत्रालय को एक पत्र भेजा है।

पत्र में कहा गया है कि मंत्रालय एफएसएसएआई को ऐसे पान मसाले बनाने वाली कंपनियों के लाइसेंस को रद्द करने का आदेश जारी करें, जिसमें पान मसाले के निर्माण के दौरान उसमें मिलावट कर मैग्नीशियम कार्बोनेट और निकोटिन मिलाकर लोगों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है।

राज्य सरकार ने अपने पत्र में सभी जिलों से जमा किए गए नमूने सैंपल एवं उसकी रिपोर्ट के साथ ही राज्य में पहले से जारी प्रतिबंध की कॉपी भी पत्र के साथ उपलब्ध कराई है। उल्लेखनीय है कि 05 जुलाई 2019 को मुख्य सचिव की अध्यक्षता में हुई उच्च स्तरीय बैठक के बाद दिए गए निर्देश पर खाद्य संरक्षा आयुक्त ने राज्य में विभिन्न ब्रांड के पान मसाले पर प्रतिबंध लगा दिया था यह प्रतिबंध विभिन्न जिलों से प्राप्त पान मसालों के नमूनों की जांच में मैग्नीशियम कार्बोनेट की मात्रा पाए जाने के कारण लगाई गई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*