पंचायती राज मंत्री ने E-Office मैनेजमेंट का किया शुभारंभ

पंचायती राज मंत्री ने E-Office मैनेजमेंट का किया शुभारंभ

पंचायती राज मंत्री ने E-Office मैनेजमेंट का किया शुभारंभ। मंत्री मुरारी प्रसाद गौतम ने किया उद्घाटन। अब फाइल टेबल पर नहीं रुकेगी। कार्य में होगी पारदर्शिता।

बिहार सरकार के पंचायती राज मंत्री मुरारी प्रसाद गौतम ने विभाग द्वारा विकसित ऑनलाइन पोर्टल E-Office Management System एवं E-Panchayat HRMS Portal का उद्घाटन किया। अब सभी जिला परिषद कार्यालय के सभी कार्यों को सरल, पारदर्शी एवं इसके क्रियान्वयन को और बेहतर बनाना संभव होगा। पहले कार्यालय के कार्यों का निष्पादन मैन्युअल होने से काफी दिक्कत का सामना करना पड़ता था। फाइल किस स्तर पर लंबित है इसकी जानकारी नहीं हो पाती थी। पूर्व में संचिकाओं के निष्पादन के बाद उसके रखरखाव में भी कठिनाई थी। इस प्रक्रिया को सरल एवं पारदर्शी बनाने हेतु विभाग द्वारा ई-ऑफिस मैनेजमेंट सिस्टम विकसित किया गया। इस सिस्टम के माध्यम से डाक मैनेजमेंट सिस्टम, ई- फाइल, ई-लीव का प्रावधान किया गया है। बिहार के सभी जिला परिषदों में जिला परिषद अध्यक्ष, मुख्य कार्यपालक पदाधिकारी सह उप विकास आयुक्त तथा सभी संबंधित अधिकारियों के लिए कुल 289 लॉगिन आईडी और पासवर्ड विकसित किया गया है।

सूचना प्रौद्योगिकी विभाग के कुमार अभिषेक की टीम की विशेष भूमिका

ई-मैनेजमेंट सिस्टम को विकसित करने में बिहार सरकार के सूचना प्रौद्योगिकी विभाग की प्रमुख भूमिका रही। नोडल अधिकारी कुमार अभिषेक और उनकी टीम ने इस सिस्टम को विकसित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

गौरतलब है कि कुमार अभिषेक की टीम ने इससे पहले आईजी ऑफिस, केंद्रीय क्षेत्र, पटना के ई-ऑफिस के कार्य को भी सफलतापूर्व अंजाम दे चुकी है। इसके लिए पटना आईजी ने कुमार अभिषेक तथा उनके टीम के सदस्यों आशुतोष भास्कर, शशांक दिनकर को नकद पुरस्कार से भी सम्मानित किया था। सम्मान पानेवालों में सूरज कुमार, गौतम कुमार भी शामिल थे।

डाक मैनेजमेंट सिस्टम नोडल अधिकारी कुमार अभिषेक तहत विभाग से निर्गत विभिन्न पत्र, आदेश पत्र, परिपत्र, निदेश को एक क्लिक करने पर बिहार के सभी संबंधित कार्यालयों को अब भेजा जा सकेगा। ई- फाइल के तहत विभाग स्तर से जिला स्तरीय कार्यालयों में तथा जिला स्तरीय कार्यालय के अंतर्गत संचालित सभी शाखाओं की संचिकाओं का आदान-प्रदान किया जा सकेगा। इससे संचिकाओं के क्रियान्वयन इन संचालन की प्रक्रिया पूर्णतः पारदर्शी हो सकेगी। ई- लीव के माध्यम से विभाग क्षेत्रीय कार्यालय में पदस्थापित सभी पदाधिकारी एवं कर्मी की छुट्टी का प्रावधान भी किया गया है। ई पंचायत ह्यूमन रिसोर्स मैनेजमेंट सिस्टम के तहत पंचायती राज विभाग अंतर्गत सभी कार्यालय में नियोजित कर्मियों का समय से मानदेय भुगतान एवं छुट्टी प्रबंधन लीव मैनेजमेंट के लिए विभाग द्वारा ऑनलाइन पोर्टल विकसित किया गया है। इस पोर्टल के माध्यम से नियोजित कर्मियों का मानदेय भुगतान होने में अब विलंब नहीं होगा। पंचायती राज विभाग द्वारा आने वाले समय में सभी संविदा कर्मियों की छुट्टी हेतु अटेंडेंस मैनेजमेंट सिस्टम मोबाइल एप विकसित किया जाएगा जिससे सभी संविदा कर्मी अपने कार्यालय के जीपीएस लोकेशन से ही उपस्थिति दर्ज कर सकेंगे।

ड्राइवरों के पक्ष में उतरीं ट्रांसपोर्ट मंत्री, कहा नया कानून गरीब विरोधी