Pappu yadv ने कहा नीतीश सरकार लतखोर है

Pappu yadv ने नीतीश कुमार की सरकार को लतखोर कहा है. पप्पू की यह टिप्पणी एडीजी अमिताभ कुमार की उस पत्र को ले कर है जिसमें बिहार आये श्रमिकों पर संदेह किया गया था कि वे अपराध की तरफ मुड़ सकते हैं.

pappu yadav press conferencce
Pappu yadav

यह प्तर एडीजी ने राज्य के तमाम डीएम और एसपी को लिखा था. जिसमें बताया गया था कि लाकडाउन के बाद बिाहर आये ( 25 लाख) श्रमिकों को रोजगार दे पाना संभव नहीं ऐसे में उनसे विधिव्यवस्था की समस्या उत्पन्न हो सकती है और वे गैरविधिक कामों में लग सकते हैं. इसलिए उन पर नजर रखने की जरूरत है.

हालांकि इस मामले में तेजस्वी यादव ने सरकार को घेरा तो पुलिस मुख्यालय ने उस पत्र को वापस ले लिया. पुलिस के प्रवक्ता ने कहा कि अब पत्र वापस ले लिया गया है.

60 हज़ार मजदूरों को टिकट,7 लाख को राशन दिया pappu yadav ने

इधर इस मामले को गर्माता देख जन अधिकार पार्टी के नेता पप्पू यादव भी इस विवाद में कूद पड़े हैं. उन्होंने ट्विट किया- ‘बिहारी चोर नहीं, मुंहजोर है इसका नेता सब भारी घूसखोर है समझे नीतीश जी मज़दूर नहीं आपकी सरकार सबसे बड़ी लतखोर है”.

गौरतलब है कि लाकडाउन के कारण बिहार से बाहर के प्रदेशों में काम कर रहे श्रमिकों की नौकरियां छिन गयीं और वे दाने दाने को महताज हो गये तो वे अपने घर लौटने लगे. हालांकि लाकडाउन के कारण उन्हें भारी पीड़ा का सामना करना पड़ा. तब उस समय बिहार सरकार ने कहा था कि अगर लाकडाउन में उन्हें बुला लिया गया तो कोरोना का संकट और गंभीर हो सकता है. लेकिन श्रमिकों की बढ़ती पीड़ा और मीडिया की खबरों के दबाव के बाद बिहार सरकार ने उनके आने का इंतजाम किया. अब तक कम से कम आधिकारिक तौर पर 25 लाख श्रमिक बिहार लौट चुके हैं.

इस दौरान पप्पू यादव ने हजारों श्रमिकों को अपने खर्च पर बिहार भेजा. उनके ट्रेन, बसों, ट्रकों का इंतजाम किया.

लेकिन इसी बीच पुलिस मुख्यालय की एक चिट्ठी जो तमाम जिलों के अधिकारियों को भेजी गयी थी उसमें मजदूरों पर अपराध की तरफ बढने का संदेह व्यक्त किया गया था.

इसी चिट्ठी को ले कर पप्पू यादव ने नीतीश सरकार को लतखोर कहा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*