PFI के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष KM Shareef का निधन

PFI के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष KM Shareef का निधन

PFI के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष KM Shareef ( केएम शरीफ) का निधन हो गया है. उनकी मौत की खबर साझा करते हुए पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया के चेयरमैन ओएमए सलाम ने शरीफ की मौत पर दुख व्यक्त किया है.

KM Shareef पापुलर फ्रंट ऑफ इंडिया ( Popular Frunt Of India) के नेशन एक्जेक्युटिव काउंसिल के मेम्बरथे.

प्रतिबंध के बहाने क्या योगी सरकार PFI के आंचल में अपने गुनाह छुपाा रही है?

फ्रंट के चेयरमैन OMA Salam ( ओएमए सलाम )ने कहा कि केएम शरीफ ने पीएफआई की शुरुआती दिनों से नेतृत्व दिया और उन्होंने संगठन को तमाम चुनौतियों में अपना भरपूर साथ दिया.

सलाम ने कहा कि शरीफ का जाना संगठन, समाज और निजी तौर पर मेरे लिए अपूर्णीय क्षति है.

56 वर्षीय शरीफ को मंगलुरू में लीवर की शिकायत के बाद एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था. उनका जन्म एक सितम्बर 1964 को हुआ था.

PFI के ठिकानों पर छापे, खाली लौटे ED कर्मियों से कहा सीजर लिस्ट देते जाओ

शरीफ के असामयिक निधन पर फ्रंट के महासचिव अनीस अहमद ने भी रंज व गम का इजहार किया है.

गौरतलब है कि शरीफ एक बेहरतीन संगठनकर्ता और रणनीतिकार के रूप में अपनी पहचान बनायी थी. पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया के देशव्यापी विस्तार में उन्होंने अहम भूमिका निभाई थी.

पापुलर फ्रंट ऑफ इंडिया यानी पीएफआई मुसलमानों के सामाजी व सियासी अवैरनेस के काम में लगा है. इस संगठन पर अनेक राज्य सरकारों ने अनेक बार प्रतिबंध भी लगाया लेकिन अदालतों ने इस प्रितबंध को रद्द कर दिया. पिछले वर्ष नागरिकता संशोधन कानून के बाद फैली हिंसा के समय भी उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने इस संगठन पर प्रतिबंध लगाने की अनुशंसा केंद्र सरकार से की थी. लेकिन अभी तक नरेंद्र मोदी की सरकार इस अनुसंशा पर कदम बढाने में नाकाम रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*