मोदी की पाँचवीं चुनावी घोषणा, क्या योजना होगी पूरी ?

मोदी की पाँचवीं चुनावी घोषणा, क्या योजना होगी पूरी ?

बिहार चुनाव को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पांचवी बार राज्य के लिए योजनाओं का शिलान्यास किया। आज उन्होंने बिहार के गांवों को ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क सेवा और 14 हजार करोड़ की राजमार्ग परियोजनाओं का उद्घाटन किया।

राज्य में अक्टूबर-नवम्बर में चुनाव होने हैं और आचार संहिता लागू होने से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज पांचवी बार बिहार के लिए परियोजनाओं का उद्घाटन किया है. उन्होंने बिहार में 14 हजार करोड़ रुपये से अधिक की लागत वाली 9 राजमार्गो के विकास के लिए परियोजनाओं की शुरुआत की. मोदी ने बिहार के गांवों को ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क से जोड़ने वाली सेवाओं का भी उद्घाटन किया। पीएम मोदी ने हाल ही में बिहार में कई विकास योजनाओं का शुभारंभ और उद्घाटन किया है। ये परियोजनाएं रेल, ब्रिज, पीने का पानी और सिंचाई से संबंधित हैं।

मोदी की चौथी चुनावी घोषणा : कोसी पुल का उद्घाटन

प्रधानमंत्री कार्यालय से जारी एक बयान में कहा गया कि नौ राजमार्ग परियोजनाओं की कुल लंबाई लगभग 350 किलोमीटर है। इनकी लागत 14,258 करोड़ रुपये है। वही ऑप्टिकल फाइबर योजना इसके तहत 45945 गांवों को ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क ज़रिये हाई स्पीड इंटरनेट से जोड़ने की योजना है. पीएमओ ने ट्वीट कर कहा कि हाई स्पीड इंटरनेट से बेहतर संपर्क और सुविधाएं मुहैया होंगी, इससे आर्थिक विकास भी होगा। वही राजमार्गों से विकास का मार्ग प्रशश्त होगा।

वही विपक्ष योजनाओं को चुनावी जुमलेबाज़ी बता रहा है. बिहार के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने सवाल उठाते हुए कहा कि “2014 के चुनाव में विशेष राज्य का दर्जा, 2015 में बहुचर्चित विशेष पैकेज जो अभी तक नहीं दिया। बिहार के पथ निर्माण मंत्री के कुछ स्क्रीनशॉट है जो पता नहीं कितनी बार चुनावों,उपचुनावों के वक्त एक ही पुल के अनेक यथाशीघ्र टेंडर निकलवा चुके है। आज फिर 5 वर्ष बाद पुन: पैकेजिंग हो रही है”.

राजद के प्रदेश उपाध्यक्ष तनवीर हस्सान ने ट्वीट कर कहा कि एनडीए नेताओं को लालू जी द्वारा स्थापित रेल इंजन कारख़ानों पर बोलते समय शर्म आ रही थी। UPA में रहते लालू जी बिहार के लिए 1 लाख 44 हज़ार करोड़ का पैकेज लाए थे और रेल इंजन व पहिया कारख़ाने लगाकर 50 हज़ार करोड़ का निवेश अलग। विकास के मामले में आप लालू जी की क्या होड़ करोगे”.

रामविलास मौत से झूझ रहे, बेटी दामाद सब दिल्ली पहुंचे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*