पीएम ने कुंभ को प्रतीकात्मक करने कहा और खुद गए रैली करने

पीएम ने कुंभ को प्रतीकात्मक करने कहा और खुद गए रैली करने

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज सुबह कोविड-19 को देखते हुए कुंभ को प्रतीकात्मक करने कहा और खुद बंगाल में दो-दो रैली करने निकल गए।

आज प्रधानमंत्री दो बातों को लेकर चर्चा में हैं। पहली, आज उन्होंने सुबह 9 बजे ट्विट किया-मैंने प्रार्थना की है कि दो शाही स्नान हो चुके हैं और अब कुंभ को कोरोना संकट के चलते प्रतीकात्मक ही रखा जाए। इससे इस संकट से लड़ाई को ताकत मिलेगी।

कुंभ को प्रतीकात्मक करने की प्रार्थना के बाद खुद वे बंगाल चुनाव में रैलियों को संबोधित करने निकल गए। आज प्रधानमंत्री की बंगाल में दो-दो रैलियां थी। पहली रैली आसनसोल में 12 बजे और दूसरी रैली गंगारामपुर में 2.15 बजे। और तो और, खुद प्रधानमंत्री ने अपनी दोनों चुनावी रैलियों का वीडियो भी जारी किया।

जब जेल से घर आएंगे लालू, तो नहीं मिलेगा शिकायत का मौका

प्रधानमंत्री द्वारा एक तरफ कुंभ को प्रतीकात्मक करने और दूसरी तरफ खुद रैली करने पर सोशल मीडिया में खूब आलोचनाएं हो रही हैं।

कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने प्रधानमंत्री पर तंज कसते हुए कहा-संतों को सलाह दी कि कुंभ मेले को समाप्त कर दें और खुद चले गए प. बंगाल में रैलियां करने। क्या पीआर एजेंसी ने इन्हें बताया नहीं कि सिर्फ कपड़े बदल-बदल कर भाषण देने के अलावा भी कुछ जिम्मेदारियां होती हैं इस पद पर बैठे व्यक्ति की?

बिग ब्रेकिंग; लालू को हाई कोर्ट ने दे दी जमानत

राजद प्रवक्ता चितरंजन गगन ने प्रधानमंत्री के कुंभ को समाप्त करनेवाले ट्विट और बंगाल में उनकी सभा के पोस्टर को एक साथ क्लब करते हुए ट्विट किया- दोहरा चरित्र। एक तरफ रोम जल रहा था, दूसरी तरफ नीरो बंशी बजा रहा था।

ऑक्सीजन के लिए पीएम को फोन किया, तो क्या जवाब मिला

उधर, महाराष्ट्र की एक खबर चर्चा में है। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने राज्य में कोरोना के कारण भयावह स्थिति से निबटने के लिए प्रधानमंत्री को फोन लगाया। कहा-महाराष्ट्र को अविलंब ऑक्सीजन चाहिए। पीएमओ से जवाब दिया गया कि प्रधानमंत्री बंगाल में हैं। उनके लौटने पर उन्हें सूचना दे दी जाएगी।

आज सोशल मीडिया पर प्रधानमंत्री पर केंद्रित कई हैशटैग चल रहे हैं। #ModiMadeDisaster #कुम्भ_मेले #Oxygen सहित कई हैशटैग चल रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*