PM ने लता को रामभक्त कहा, मोदी-मोदी चीखनेवाले लापता

PM ने लता को रामभक्त कहा, मोदी-मोदी चीखनेवाले लापता

पीएम नरेंद्र मोदी ने कासगंज में सभा को संबोधित करते हुए लता मंगेशकर को रामभक्त कहा। उन्होंने राम के भजनों को अमर कर दिया। मोदी-मोदी चीखनेवाले लापता।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज यूपी के कासगंज में थे। उन्होंने सभा को संबोधित करते हुए लता मंगेशकर को रामभक्त कहा। कहा कि लता मंगेशकर ने राम के भजनों को गाकर अमर कर दिया। उन्होंने अयोध्या के एक चौराहे का नाम लता चौक करने पर मुख्यमंत्री योगी का अभिनंदन किया। उनकी सभा में बीच-बीच में समर्थन में शोर तो सुने जा सकते हैं, लेकिन मोदी-मोदी चीखनेवाले नजर नहीं आए। प्रधानमंत्री मोदी ने अपने भाषण का वीडियो खुद ही ट्वीट किया है। आप भी उनके ट्विटर हैंडल पर जाकर सुन सकते हैं।

प्रधानमंत्री ने लता मंगेशकर को रामभक्त बताया। राम के भजन गाने के लिए याद किया। क्या यह लता को सीमित करना है। उनका एक गीत पाकिस्तान के एक स्कूल में अरसे सुबह की प्रार्थना में गाया जाता था। वह गीत था-ऐ मालिक तेरे बंदे हम…।

लता मंगेशकर ने 30 भाषाओं में लगभग 30 हजार गीत गाए। इन गीतों में हर धर्म से जुड़े गीत हैं। लता मंगेशकर के भतीजे वैधनाथ ने लगभग आठ साल पहले एक अलबम –या रब्बा– बनाया, जिसमें लता ने ‘रब्बा मेरा हाल दा मेहरम तू’ और ‘रांझा रवाल मांगे’ गीत गाए। यो दोनों गीत सूफी गीत हैं, जिन्हें सूफी कवि हजरत शाह हुसैन ने लिखा था।

प्रधानमंत्री मोदी ने अपने लंबे भाषण में बेरोजगारी, किसानों की आय दोगुनी करने, गन्ना किसानों के पेमेंट, महंगाई, खेतों को नुकसान पहुंचा रहे आवारा पशुओं की एक बार भी चर्चा नहीं की, जबकि ये सभी आम आदमी के बड़े सवाल हैं।

पूरी सभा में एक बात गौर करनेवाली है। प्रधानमंत्री के भाषण के बीच-बीच में उनके समर्थन में शोर तो सुनाई पड़ता है, लेकिन मोदी-मोदी चीखनेवाले नजर नहीं आते। एक बार भी किसी कोने से मोदी-मोदी की आवाज नहीं सुनाई दी। कासगंज पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह का क्षेत्र रहा है।

Hijab विवाद के बीच अरुणाचल के प्राइवेट स्कूलों का नायाब फैसला

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*