रेड लाईट ऐरिया में छापेमारी में चकलाघर संचालक सहित छह गिरफ्तार, चार लड़कियां मुक्त

रेड लाईट ऐरिया में छापेमारी में चकलाघर संचालक सहित छह गिरफ्तार, चार लड़कियां मुक्त

सांकेतिक फोटो

बेगुसराय,  शिवा नंद गिरि

एएसपी सह बलिया डीएसपी अंजनी कुमार के नेतृत्व में मंगलवार की रात बलिया नगर पंचायत के सत्तीचौडा़ स्थित रेड लाईट ऐरिया में छापेमारी कर चकलाघर संचालक सहित छह लोगों को गिरफ्तार किया गया है। वहीं चार नाबालिग लड़की को भी मुक्त कराया गया है।

जस्टिस भेंचर इंडिया ट्रस्ट की पहल पर की गई छापेमारी के बारें में डीएसपी अंजनी कुमार ने बताया कि सत्तीचौड़ा स्थित रेड लाइट एरिया में छापेमारी कर संचालक शंकर खलीफा, उसके पुत्र राहुल खलीफा, पुत्री रानी खातून, पत्नी मजमा खातून एवं जूही खातून को गिरफ्तार किया गया है। इस दौरान एक ग्राहक लखमिनियां निवासी वसीम मिस्त्री के पुत्र मो शमशाद को भी गिरफ्तार किया गया है।

चकलाघर संचालक गिरफ्तार

चकलाघर के संचालक शंकर खलीफा के घर से चार नाबालिग लड़की को भी बरामद कर मुक्त कराया गया है। जिसमें सीतामढ़ी जिले के सीतामढ़ी थाना क्षेत्र अंतर्गत इस्लामपुर निवासी मो सलीम की पुत्री बबली खातून, सत्तीचौड़ा निवासी शंकर खलीफा की पुत्री महक खातून, सहरसा जिले के बरकागांव थाना क्षेत्र निवासी बली राय की पुत्री किरण कुमारी एवं मुजफ्फरपुर जिले के लदौरा निवासी नूर मो की पुत्री फूल नाज को बरामद किया गया है। उन्होंने बताया कि गिरफ्तार सभी आरोपियों को न्यायिक हिरासत में तथा बरामद नाबालिग युवतियों को बयान के लिए न्यायालय भेजा गया है। जिसके बाद मेडिकल जांच करवा कर चाइल्ड वेलफेयर के हवाले कर दिया जाएगा।
छापेमारी दल में शामिल जस्टिस भेंचर इंडिया ट्रस्ट की संजू सिंह ने बताया कि इससे पूर्व बिहार के बेतिया एवं सीतामढ़ी के रेड लाइट एरिया में की गई छापेमारी में बलिया के तार जुड़े रहने की बात सामने आई थी। जिस आधार पर ट्रस्ट के अधिवक्ता संभव गुप्ता एवं रेणु कुमारी के साथ बलिया पुलिस के सहयोग से शंकर खलीफा के घर में छापेमारी की गई। छापेमारी दल में सर्किल इंस्पेक्टर, बलिया थानाध्यक्ष, साहेबपुर कमाल थानाध्यक्ष, डंडारी के पुलिस अधिकारी के साथ भारी संख्या में चीता फोर्स के जवान शामिल थे। बताया जाता है कि इससे पूर्व भी बलिया के चकला घरों में जिला एवं अनुमंडल पुलिस के नेतृत्व में कई बार छापेमारी की जा चुकी है। लेकिन रेड लाइट एरिया दिन दूनी रात चौगुनी फल-फूल रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*