पुलवामा : किसी ने वोट लिया, किसी ने TRP, लापरवाही का दोषी कौन

पुलवामा : किसी ने वोट लिया, किसी ने TRP, लापरवाही का दोषी कौन

पुलवामा आतंकी हमले के बाद चुनाव में पीएम ने इसी नाम पर वोट लिया। अर्णब को टीआरपी मिला, लेकिन इस चूक के लिए जिम्मेवार कौन है, यह आजतक तय नहीं हो पाया।

कुमार अनिल

आज पुलवामा आतंकी हमले की दूसरी बरसी को हर दल ने अलग-अलग ढंग से याद किया। 2019 में भाजपा के लिए यह बहुत बड़ा मुद्दा था। खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पहली बार मतदान कर रहे युवाओं से अपना वोट पुलवामा के शहीदों के नाम समर्पित करने की अपील की थी। आज दूसरी बरसी पर भाजपा ने पुलवामा को याद करने के लिए कोई बड़ा कार्यक्रम नहीं किया। प्रमुख नेताओं ने ट्विट करके ये कहा कि शहीदों को देश कभी नहीं भूलेगा।

उधर, कांग्रेस ने आज शहीदों को श्रद्धांजलि देने के साथ कुछ सवाल भी खड़े किए। कांग्रेस ने पूछा कि इतनी बड़ी घटना किसकी लापरवाही से हुई, कौन चूक के लिए दोषी है, सरकार आजतक तय नहीं कर पाई है। यह भी पूछा गया है कि जवानों को हेलिकाप्टर से क्यों नहीं भेजा गया, हमले के लिए सामग्री कैसे पुलवामा पहुंच गई, जबकि हर कुछ सौ मीटर पर हर वाहन की जांच होती थी। कांग्रेस ने सेना के जवानों के भत्तों में कटौती किए जाने पर भी मोदी सरकार को घेरा।

आज के दिन सोशल मीडिया पर अर्णब गोस्वामी भी ट्रेंड करते रहे। लोगों ने अर्णब का वाट्सएप चैट शेयर किया- हम जीत की खुशी में पागल हो जाएंगे। रिपब्लिक टीवी पर तब दिन-रात पुलवामा, पाकिस्तान और विपक्ष पर हमला किया जा रहा था, आज वही टीवी शाम छह बजे कारगिल में सेना की वीरता पर चर्चा कर रहा था।

दागी मंत्रियों पर नीतीश का टाल मोटल, तेजस्वी हुए हमलावर

किसान एकता मोर्चा ने अपने ढंग से पुलवामा को याद किया। मोर्चा ने कहा कि तब भी शहादत हुई थी, आज भी किसान शहीद हो रहे हैं। हम दोनों को सलाम करते हैं। जय किसान-जय जवान।

राजद ने भी पुलवामा दिवस पर सवाल पूछा कि 300 किग्रा आरडीएक्स घटनास्थल पर कैसे पहुंचा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*