रघुवंश व नरेंद्र की मुलाकात से गरमायी राजनीति

लोकसभा चुनाव के समय से ही जनता दल यूनाइटेड (जदयू) से नाराज चल रहे पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं बिहार के पूर्व मंत्री नरेंद्र सिंह ने आज राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रघुवंश प्रसाद सिंह से मुलाकात कर राजनीतिक सरगर्मी बढ़ा दी है।

जदयू नेता श्री सिंह राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह के यहां कौटिल्य नगर स्थित आवास पर जाकर भेंट की। दोनों नेताओं के बीच लगभग एक घंटे तक बातचीत हुई।

राजद और जदयू के दोनों नेताओं के बीच हुई इस मुलाकात के बाद राजनीतिक गलियारे में चर्चाओं का बाजार गर्म है। हालांकि जदयू नेता ने इस मुलाकात को व्यक्तिगत लेकिन जानकार इसे नए राजनीतिक समीकरण के तौर पर देख रहे हैं। वहीं दोनों नेताओं की भेंट पर अभी साफ तौर पर कहना मुश्किल है।

वहीं, दूसरी ओर राजद नेता श्री सिंह ने कहा कि उनकी मुलाकात राजनीतिक नहीं थी। जदयू में उनके शामिल होने के संबंध में पूछे गए सवाल पर उन्होंने कहा कि वह राजद के मजबूत सिपाही हैं और पार्टी के लिए काम करते रहेंगे। उन्होंने कहा, “मेरा जदयू में जाने का सवाल ही पैदा नहीं होता है।”
राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ने कहा कि उनका मुद्दा जनता का विकास, उनकी समस्या और समाधान है। इसके लिए वह किसी से भी मिलेंगे। उन्होंने कहा कि वह तो आम जनता जिनसे कोई मिलने नहीं जाता उससे भी मिलते हैं। यदि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मिलना पड़े तो परहेज नहीं करेंगे। उन्होंने कहा कि श्री कुमार यदि महागठबंधन में आना चाहेंगे तो वह उनका स्वागत करेंगे।

अपनी बेबाक शैली के लिए मशहूर श्री सिंह ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को भगाने के लिए वह किसी से भी तालमेल कर सकते हैं। श्री कुमार के साथ-साथ यदि और कोई भी महागठबंधन में आना चाहे तो उसका स्वागत है। उन्होंने कहा कि श्री कुमार के महागठबंधन में आने से बल मिलेगा और राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) की ताकत कमजोर होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*