राहुल भी समझ चुके हैं Alternative Media की ताकत, की खास चर्चा

राहुल भी समझ चुके हैं Alternative Media की ताकत, की खास चर्चा

#BharatJodoYatra के क्रम में राहुल ने सिर्फ Alternative Media के प्रतिनिधियों से की। लोकतंत्र के पुराने चौथे खंभे में लगा घुन, नए चौथे खंभे से की खास चर्चा।

भारत जोड़ो यात्रा के क्रम में राहुल गांधी ने बुधवार को अल्टरनेटिव मीडिया के प्रतिनिधियों से खास बात की। यह अल्टरनेटिव मीडिया ही है, जिसने अखबारों और नेशनल टीवी चैनलों द्वारा यात्रा को ब्लैक आउट किए जाने के बाद भी देश के हर शहर और हर गांव तक पहुंचा दिया। यह इस अल्टरनेटिव मीडिया की ताकत है, जिसे राहुल गांधी ने भी महसूस किया। हालांकि राहुल गांधी यात्रा के दौरान खास-खास यू-ट्यूबर से मिलते रहे हैं, पर पहली बार बुधवार को उन्होंने अल्टरनेटिव मीडिया के18-20 पत्रकारों से एक साथ खास चर्चा की। उनके सवालों का जवाब दिया और साथ में फोटो भी खिंचाया।

देश के बड़े अखबार और प्रमुख टीवी चैनल के पत्रकार भारत जोड़ो यात्रा के साथ-साथ चल तो रहे हैं, पर न तो लिखते हैं और न ही दिखाते हैं। दरअसल वे इसी ताक में हैं कि कोई गड़बड़ी हो, तो तुरत देशभर में यात्रा को फेल बताया जा सके या राहुल गांधी की छवि को खराब किया जा सके।

देश का प्रमुख मीडिया, जिसे आजकल गोदी मीडिया कहा जाता है। मीडिया की जिम्मेदारी रही है कि वह सरकार की कमजोरी दिखाए. सरकार की आलोचना करे और जनता का पक्ष रखे, लेकिन आज का मीडिया ठीक इसके उल्टा कर रहा है। लोकतंत्र के चौथे खंभे में घुन लग गया है, लेकिन यह संतोष की बात है कि बहुत कम संसाधनों में अल्टरनेटिव मीडिया लोकतंत्र के चौथे खंभे की भूमिका में खड़ा हो रहा है। राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा और उसके मुद्दों को इसी मीडिया ने जन-जन तक पहुंचाया।

अगर राहुल की यात्रा को अल्टेकनेटिव मीडिया ने जन-जन तो पहुंचाया, तो आज राहुल ने भी इनसे अलग से चर्चा करके इन्हें बल दिया। इनका हौसला बढ़ाया। सोशल मीडिया पर ये प्रतिनिधि अपना वीडियो जारी कर रहे हैं। महिला मुद्दों की मुखर आवाज सुजाता ने राहुल गांधी के साथ अपनी चस्वीर शेयर की है।

आधा घंटा के लिए ट्विटर पर आए ShahRukh, जीते हजारों दिल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*