Rahul के गिरेबां में हाथ डाल फंस गई BJP, देशभर में विरोध प्रदर्शन

Rahul के गिरेबां में हाथ डाल फंस गई BJP, देशभर में विरोध प्रदर्शन

राहुल गांधी को ईडी का नोटिस थमाने, पूछताछ के लिए दफ्तर बुलाने को कांग्रेस ने देशभर में मुद्दा बना दिया। बिहार सरकार के उपमुख्यमंत्री तिलमिलाए।

आज कांग्रेस के सारे सांसद, विधायक, मुख्यमंत्री और हर स्तर के नेता सड़कों पर दिखे। कांग्रेस ने राहुल गांधी को ईडी का नोटिस देने, दफ्तर में हाजिर होने के आदेश को बड़ा राजनीतिक मुद्दा बना दिया। पंजाब से त्रिपुरा तक औक जम्मू से केरल तक हर स्तर के नेता सड़कों पर भाजपा के खिलाफ नारे लगा रहे थे। दिल्ली में बड़ी संख्या में सांसदों, नेताओं को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। हालत यह रही कि दिल्ली पुलिस ने कांग्रेस दफ्तर के इर्द-गिर्द धारा 144 लगा दी। कांग्रेस ने अपने दफ्तर से ईडी दफ्तर तक मार्च करने का एलान किया था। पुलिस ने यहां जमा हो रहे नेताओं को हिरासत में ले लिया। इस बीच राहुल गांधी ईडी दफ्तर पहुंचे। उनके साथ प्रियंका गांधी और कई अन्य सांसद भी थे। कांग्रेस ने ईडी नोटिस को भाजपा के खिलाफ राजनीतिक मुद्दा बना दिया।

कांग्रेस ईडी के नोटिस को इतना बड़ा मुद्दा बना देगी, शायद भाजपा ने सोचा नहीं होगा। इसीलिए उसकी तिलमिलाहट साफ दिखी। बिहार सरकार के उपमुख्यमंत्री और भाजपा नेता तारकेश्वर प्रसाद ने कहा कि कांग्रेस कभी जनता की समस्या पर प्रदर्शन नहीं करती है, लेकिन उनके नेता राहुल गांधी को बचाने में सड़क पर आंदोलन कर रही है। केंद्रीय मंत्री स्मृति ऊरानी समेच भाजपा के कई बड़े नेता आज राहुल के खिलाफ बोलते नजर आए। साफ है कि भाजपा कांग्रेस के इस तरह आक्रामक होने से परेशान है और उसे भी राजनीतिक जवाब देने के लिए सामने आना पड़ा।

पटना में बिहार कांग्रेस के सभी नए-पुराने नेता आज धरना पर बैठे। जन अधिकार पार्टी के अध्यक्ष पूर्व सांसद पप्पू यादव ने भा राहुल गांधी को ईडी का नोटिस देने पर कड़ी प्रतिक्रिया दी और कहा कि हिटलर की तरह शासन चलाने वाले का दिन भी जल्द ही खत्म होगा।

देखिए दैनिक भास्कर की जहरीली पत्रकारिता, रहिए सावधान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*