नीतीश की राजगीर यात्रा के पहले एक्सिडैंट से मरे शख्स को पुलिस ने बिन पोस्टमार्टम किया दफ्न

नीतीश कुमार राजगीर यात्रा गये उससे पहले एक वृद्ध की एक्सिडेंट से हुई मौत के बाद पुलिस ने आनन फानन में बिना पोस्टमार्टम किये लाश को दफ्न कर दिया.

मृत के भतीजा प्रह्लाद ने कहा कि उनके चाचा को पुलिस बिना पोस्टमार्टम के दफ्न कर दिया

नालंदा से महमूद आलम की रिपोर्ट

नालंदा, बिहार:- राजगीर थाना क्षेत्र जय प्रकाश उद्यान के समीप जंगल में दफन बुजुर्ग की लाश को परिजनों ने बरामद किया. परिजनों का आरोप है कि पुलिस ने शव को बग़ैर पोस्टमार्टम किए दफना दिया, एवं साक्ष्य मिटाने का प्रयास किया.

हालांकि पुलिस घटना की जानकारी से इंकार कर रही है. मृतक नवादा जिला के नारदीगंज थाना क्षेत्र के हड़िया गांव निवासी 70 वर्षीय नरेश सिंह हैं.

अज्ञात वाहन की चपेट में आकर उनकी मौत की बात कही जा रही है. मृतक के पुत्र कुंदन सिंह व भतीजा प्रह्लाद सिंह ने बताया कि बुजुर्ग कार्तिक पूर्णिमा स्नान करने के लिए सोमवार को राजगीर आए थे.

वापस नहीं लौटने पर परिवार के लोग उनकी तलाश कर रहे थे. गांव के एक चालक ने उनलोगों को बताया कि राजगीर जू-सफारी के पास सड़क पर खून का निशान है. अंदेशा है सड़क दुर्घटना में किसी की मौत हुई है.

इसके बाद परिवार मंगलवार को जु सफारी के समीप पहुंचे उसी दौरान सीएम आगमन को लेकर तैनात एक होमगार्ड के जवान ने उन्हें बताया कि सड़क से थोड़ी दूर पर एक शव को गाड़ा गया है. मौके पर चुनौटी गिरी थी, जो बुजुर्ग की थी. इसके बाद जमीन खोदकर परिवार ने लाश बरामद किया. शव क्षत-विक्षत हालत में था. कपड़े से मृतक की पहचान की गई.

इसके बाद पुलिस शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल लाई. परिवार में पुलिस के प्रति नाराजगी व आक्रोश देखा जा रहा है. थानाध्यक्ष संतोष कुमार ने बताया कि घटना की जानकारी उन्हें नहीं थी. मजदूरों ने लाश को ठिकाने लगा दिया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*