राज्यपाल की जा सकती है कुर्सी, VC के आरोप से खलबली

राज्यपाल की जा सकती है कुर्सी, VC के आरोप से खलबली

यूपी में भाजपा के कई बार विधायक रह चुके और वर्तमान में बिहार के राज्यपाल फागू चौहान पर भ्रष्टाचार का सीधा आरोप लगा है। दिल्ली तलब किए गए। खतरे में कुर्सी।

बिहार के राज्यपाल फागू चौहान मुश्किल में हैं। उनकी कुर्सी जा सकती है। पहली बार उनपर भ्रष्टाचार का सीधा आरोप लगा है। आरोप भी किसी आम आदमी ने नहीं, एक वाइस चांसलर ने लगाया है। उन्होंने इस संबंध में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को पत्र लिखा है। पत्र की जानकारी मीडिया में आने के बाद हंगामा है। राज्यपाल को दिल्ली तलब किया गया है।

पटना स्थित मौलाना मजहरूल हक अरबी-फारसी विवि के कुलपति प्रो. कुद्दुस ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को पत्र लिखकर सनसनीखेज आरोप लगाया है। प्रो. कुद्दुस ने लिखा है कि अतुल श्रीवास्तव नाम के व्यक्ति ने राजभवन के नाम पर फोन किया। उसने उनपर भुगतान करने का दबाव बनाया। वीसी ने कॉपी खरीद मामले में भी भ्रष्टाचार का आरोप लगाया।

कुलपति ने उनसे पहले के प्रभारी कुलपति प्रो. सुरेंद्र प्रताप पर उत्तर पुस्तिकाओं की खरीद में भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए जांच की मांग की। वीसी ने मुख्यमंत्री को भेजे अपने पत्र में कहा है कि राज्य के विवि में लूट हो रही है।

वीसी के पत्र की जानकारी सामने आने के बाद कई छात्र संगंठनों ने सड़क पर उतर कर विरोध प्रदर्शन किया है। आइसा ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का पुतला जलाया। संगठन ने कहा-कुलपतियों का भ्रष्टाचार- भाजपा-जदयू जिम्मेवार! पटना विश्वविद्यालय, ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय, दरभंगा एवं वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय आरा समेत अन्य विश्वविधालयों में पुस्तक घोटाला हुआ है।

वीसी ने सीएम को लिखे पत्र में कहा है कि जो उत्तर पुस्तिका पहले केवल सात रुपए में खरीदी जाती थी, उसे उनके पूर्व के वीसी ने 16 रु प्रति कॉपी कर दी। इस रेट पर कॉपियों का ऑर्डर भी दे दिया गया। एक लाख 60 हजार कॉपियों का आर्डर दिया गया । स्पष्ट है, बड़े पैमाने पर गोलमाल हुआ है और इसमें पूरा गठजोड़ काम कर रहा है। वीसी के आरोप के बाद राजभवन की भूमिका पर भी छात्र संगठनों ने उंगली उठाई है।

भाजपा के होश उड़े, कानपुर में नड्डा की सभा फ्लॉप

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*