रात दो बजे पुलिस से टकराती प्रियंका का वीडियो क्यों हुआ वायरल

रात दो बजे पुलिस से टकराती प्रियंका का वीडियो क्यों हुआ वायरल

जब पूरा देश चैन की नींद सो रहा था, तब रात के दो बजे प्रियंका गांधी पुलिस से टकरा रही थीं। उन्हें लखीमपुर के रास्ते पुलिस ने रोका। दो वजहों से वीडियो वायरल।

आज देश में प्रियंका गांधी का एक वीडियो वायरल है। आज सुबह से #प्रियंका_गांधी ट्विटर पर ट्रेंड कर रही हैं। वीडियो में दिख रहा है कि वे रात में लखीमपुर जा रही हैं। लखनऊ में भी उन्हें रोकने की कोशिश हुई, पर वे पुलिस को चकमा देकर निकल गईं। रात दो बजे उन्हें लखीमपुर से पहले सीतापुर में पुलिस ने रोक लिया। उनके साथ कांग्रेस के युवा सांसद दीपेंद्र हुड्डा भी थे। पुलिस उन्हें घसीटने लगी, तो प्रियंका ने विरोध किया। उन्होंने पुलिस पर सवालों की बौछार कर दी। पूछा कि हमें रोकने का आदेश दिखाओ। काफी हुज्जत के बाद पुलिस ने कहा कि लखीमपुर में धारा144 लागू है। तब प्रियंका गांधी ने कहा कि ठीक है, हम चार लोग पैदल ही जाएंगे। उसके बाद वे पैदल चलने लगीं। प्रियंका गांधी लगभग एक घंटे तक पुलिस से लड़ती रहीं, पर उन्हें पुलिस ने जबरन गिरफ्तार कर लिया। उन्हें पुलिस लाइन में रखा गया। सुबह उनका एक और वीडियो वायरल हुआ, जिसमें वे कमरे में झाड़ू दे रही हैं।

रात दो बजे पुलिस से टकराती प्रियंका का वीडियो देशभर में वायरल होने के पीछे दो वजहें हैं। पहला, आज राजनीति नेताओं के लिए सुख-सुविधापूर्ण जीवन जीने का माध्यम बन गया है। दिनभर में कई ड्रेस चेंज करिए। ट्विटर पर किसी सेलेब्रिटी का अंगूठा चोटिल होने पर ट्वीट करिए आदि-आदि। प्रियंका गांधी भी चाहती तो वे रात भर लखनऊ में रुक कर सुबह लखीमपुर जाने के लिए निकल सकती थीं। लेकिन रात में ही निकलना उनकी संवेदनशीलता दिखाता है। यह संवेदनशीलता अब राजनीति में नहीं दिखती।

लेखिका सुजाता ने ट्वीट किया- प्रियंका गांधी रात भर से सत्ता की अनैतिक पुलिस से जूझ रही हैं, क्यों? लखीमपुर के पीड़ित किसान परिवारों के पास जाने के लिए। यह मानवीय पक्ष अब राजनीति में दुर्लभ है तभी बहुत लोग मज़ाक़ उड़ाते दिखते हैं राहुल-प्रियंका का। लेकिन यह किसका दुर्भाग्य है? जनता सोच ले।

किसानों के प्रति संवेदनशीलता के बाद वीडियो वायरल होने की दूसरी वजह उनका योगी सरकार से टकराना है। उनका साहस है। उन्होंने पुलिस गिरफ्तारी के दैरान कहा है कि वे जैसे ही छूटेंगे, किसानों के पास जाएंगी। उन्हें किसानों से मिलने, अपनी संवेदना जताने का अधिकार है।

लखीमपुर : तेजस्वी ने कहा, हैवान हो गई सरकार, जदयू खामोश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*