राजद का बड़ा आरोप, मधुबनी जनसंहार में मंत्री का हाथ

राजद का बड़ा आरोप, मधुबनी जनसंहार में मंत्री का हाथ

इस बार बिहार की होली खूनी होली रही। जहरीली शराब से लोग मरे। वहीं मधुबनी में जनसंहार हो गया। इसके साथ ही बिहार में बढ़ता अराध एकबार फिर मुद्दा बन गया है।

एक बार फिर बिहार बढ़ते अराध के कारण सुर्खियों में है। नवादा में जहरीली शराब से चार दिनों में 16 लोगों की मौत हो चुकी है। मधुबनी में जनसंहार हो गया, जिसमें एक ही परिवार के पांच लोगों की हत्या कर दी गई।

मधुबनी राजद @madhubani_rjd ने ट्विट किया-मधुबनी जनसंहार करनेवाले हत्यारों का संरक्षक शेल्टर होम कांड में संलिप्त रहा मंत्री है। यह मंत्री नीतीश कुमार का लाडला है। एक भाजपा विधायक भी है। यह भी सच है कि बिना सत्ता के संरक्षण के इतना बड़ा जनसंहार संभव नहीं है।

विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने कहा होली के दिन मधुबनी में नृशंस जनसंहार, जिसमें पांच लोगों की हत्या। उसी दिन जहरीली शराब से 22 लोगों की मौत। तेजस्वी ने मीडिया पर भी निशाना साधा और कहा कि इतने बड़े जनसंहार के बावजूद गोदी मीडिया में सन्नाटा है। मुख्यमंत्री को तो घटना की जानकारी ही नहीं है।

राजद विधायक चेतन आनंद @ChetanA_Mohan ने तीन दिन पहले पीड़ित परिवार से मुलाकात की और कहा कि सड़क से सदन तक इस जनसंहार के खिलाफ लड़ेंगे।

बिहार में एकबार फिर अपराध का मुद्दा सतह पर आ गया है। राजद प्रवक्ता चितरंजन गगन ने भागलपुर में पुलिस हिरासत में एक क्लर्क की मौत पर सवाल उठाया है। कहा, शराबबंदी की आड़ में काली कमाई करनेवाली पुलिस अब बिहार विशेष सशस्त्र पुलिस अधिनियम की ओट में रंगदारी की वसूली करेगी। मायागंज के रहनेवाले क्लर्क संजय कुमार के परिजनों ने आरोप लगाया है कि संजय की मौत पुलिस थाने में पिटाई से हुई है।

चितरंजन गगन ने मधुबनी जनसंहार की कड़े शब्दों में निंदा करते हुए कहा-बिहार में कानून व्यवस्था ध्वस्त, नीतीश रकार मस्त।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*