राजद में लोकतंत्र का हुआ चीरहरण

उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी प्रसाद यादव को अगले विधानसभा चुनाव में राष्ट्रीय जनता दल की ओर से मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित किये जाने पर कटाक्ष करते हुये कहा कि राजद में आंतरिक लोकतंत्र का चीरहरण पार्टी के भीष्म-द्रोणाचार्य के साथ ही राज्य की 11 करोड़ जनता भी भी देख रही है।


भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता श्री मोदी ने ट्वीट कर कहा, “बिहार में लोकसभा की सभी 40 सीटों पर राजद की हार के बाद जिस व्यक्ति से इस्तीफे की उम्मीद की जा रही थी, वे 33 दिन तक जनता, संगठन और विधायिका के नेटवर्क एरिया से बाहर थे। लेकिन, मंच पर उनके प्रकट होते ही राष्ट्रीय कार्यकारिणी ने नेतृत्व पर कोई सवाल उठाने की बजाय बिना बहस के प्रस्ताव पारित कर सीएम-इन- वेटिंग के तौर पर उनका पोस्ट-डेटेड राजतिलक कर दिया।”

श्री मोदी ने कहा कि मुख्य विरोधी दल में आंतरिक लोकतंत्र का चीरहरण पार्टी के भीष्म-द्रोणाचार्य भी देख रहे हैं और राज्य की 11 करोड़ जनता भी। उप मुख्यमंत्री ने एक अन्य ट्वीट में कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर निशाना साधते हुये कहा, “सवा सौ रिपीट सौ करोड़ लोगों के विधिवत निर्वाचित प्रधानमंत्री सहित मोदी उपनाम वाले लाखों लोगों को चोर कह कर अपमानित करने के कारण कांग्रेस नेता राहुल गांधी को पटना व्यवहार न्यायालय में पेश होना पड़ा लेकिन बाहर उन्होंने बयान दिया कि वे संविधान बचाने की लड़ाई लड़ रहे हैं। दरअसल, वे सभी नागरिकों को सम्मान का अधिकार देने वाले अम्बेडकर रचित संविधान की जगह ऐसा संविधान थोपना चाहते हैं, जिसमें गांधी उपनाम वाले लोगों के लिए दूसरों को अपमानित करने का विशेषाधिकार हो।”
श्री मोदी ने कहा कि श्री गांधी की पार्टी को उत्तर प्रदेश और बिहार की 120 लोकसभा सीटों में सिर्फ दो देकर उन्हें जनता ने खारिज कर दिया, लेकिन पटना की सड़क पर वे इस तरह पैदल चले, जैसे जनहित के मुद्दे पर अदालत गए हों। राहुल अब भी आत्ममुग्धता की मूर्छा में जी रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*