रुपेश हत्या: IAS को लपेटने पर सुशासन माफिया पर बरसे पूर्व IPS

रुपेश हत्या: IAS को लपेटने पर सुशासन माफिया पर बरसे पूर्व IPS

Indigo के स्टेशन मैनेजर रुपेश सिंह हत्या मामला में एक वरिष्ठ IAS अफसर प्रत्यय अमृत का नाम लिये जाने के बाद मामला काफी संवेदनशील हो गया है.

गौरतलब है कि अमिताभ कुमार दास बिहार कैडर के पूर्व आईपीएस अफसर हैं और वह नीतीश सरकार औऱ उनके चहेते नौकरशाहों के खिलाफ काफी मुखर रहे हैं. आईपीएस अमिताभ कुमार दास अपने सेवा काल में भी सरकार के अनेक फैसलों के खिलाफ बोलते रहे हैं यहां तक कि उन्होंने सरकार के खिलाफ अनेक केस भी लड़ा और जीता.

इस बीच पूर्व IPS अधिकारी अमिताभ दास ने डीजीपी को एक पत्र लिख कर मांग की है मामले की जांच सीबीआई को सौंपी जाये. उन्होंने कहा है कि इस हत्याकांड के तार खूनी टेंडर वार से जुड़े हैं. इस की जांच होगी तो अनेक मंत्री और IAS अधिकारी जेल चले जायेंगे.

Prataya Amrit, IAS

गौरतलब है कि इससे पहले जन अधिकार पार्टी के नेता पप्पू यादव पप्पू यादव ने कहा कि प्रत्यय अमृत ने सरकारी नियमों के खिलाफ पांच महिलाओं को विदेश भेजा। क्या सरकार के पास कोई कुबेर का खजाना है कि जनता के पैसों को बर्बाद किया गया। विदेश जाने वाली पांच महिलाओं में एक अंजलि आनंद की मौत एक वर्ष पूर्व हुई, जिसे आत्महत्या कहा गया, लेकिन उसकी कभी जांच नहीं हुई और बिना पंचनामे के ही अंतिम संस्कार कर दिया गया। इस मौत की भी जांच होनी चाहिए क्योंकि रुपेश की हत्या के राज को खोलने के लिए परत दर परत जांच होनी बहुत जरूरी है।

कौन हैं प्रत्यय अमृत, किसने उन्हें रूपेश हत्याकांड में लपेटा

अमिताभ ठाकुर ने डीजीपी को लिखे पत्र में कहा है कि इस मामले में मुख्यमंत्री लीपापोती कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि इस मामले में सुशास माफिया नंगा हो जायेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*