बिहार के DGP भाजपा समर्थक, महाराष्ट्र सरकार को कर रहे बदनाम

बिहार के DGP भाजपा समर्थक, महाराष्ट्र सरकार को कर रहे बदनाम

बिहार के DGP भाजपा समर्थक, महाराष्ट्र सरकार को कर रहे बदनाम

सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड केस (Sushant Singh Rajput Suicide Case) के बारे शिव सेना सांसद संजय राउत ने लेख लिख कर कहा है कि बिहार के डीजीपी भाजपा समर्थक हैं इसलिए वह मुम्बई पुलिस को बदनाम करने में लगे हैं.

सुशांत आत्महत्या:मुम्बई में बिहारी IPS को जबरन क्वारनटीन में डाला

राज्यसभा सांसद संजय राउत (Sanjay Raut) ने बिहार पुलिस और केंद्र सरकार पर आरोप लगाते हुए लिखा है कि ये दोनों महाराष्ट्र सरकार के खिलाफ षडयंत्र रचने की कोशिश कर रहे हैं.


राउत ने यहां तक लिखा है कि, ‘एक बात सत्य है कि सुशांत का पटना में रहने वाले अपने पिता से संबंध अच्छा नहीं था. मुंबई ही उसका ‘आशियाना’ था. इस पूरे दौर में सुशांत, पिता और अन्य रिश्तेदारों से कितनी बार मिला, सुशांत कितनी बार पटना गया, ये सामने आने दो.

सुशांत की दो गर्लफ्रेंड्स

राउत ने लिखा है कि अंकिता लोखंडे और रिया चक्रवर्ती ये दो अभिनेत्रियां उसके जीवन में थीं. इनमें से अंकिता ने सुशांत को छोड़ दिया था और रिया उसके साथ थी. अब अंकिता, रिया चक्रवर्ती के बारे में अलग बात कर रही है. असल में अंकिता और सुशांत अलग क्यों हुए इस पर प्रकाश डालने के लिए कोई तैयार नहीं है, जो कि जांच का एक हिस्सा होना चाहिए.’

राउत ने आगे लिखा है कि कुछ पात्रों द्वारा सुशांत राजपूत आत्महत्या मामले को अपने-अपने पक्ष में मोड़ने का प्रयास किया जा रहा है. सुशांत एक अभिनेता था. पटना से वह मुंबई आया और बस गया था. उसकी आत्महत्या का जिम्मेदार कौन है? यह समझना मुश्किल है परंतु इसमें सुशांत सहित सभी जिम्मेदार हैं. उसकी आत्महत्या एक शोकांतिका ही है लेकिन राजनीतिक चश्मे से इस ओर देखना उचित नहीं है. उसने अपना जीवन खत्म किया. अब कोई भी उसकी मृत्यु का उपयोग निवेश के तौर पर करे, इसका क्या अर्थ है.’

गौरतलब है कि बिहार के अभिनेता सुशांत राजपूत ने जून में आत्महत्या कर ली थी. हालांकि सुशांत के पिता का आरोप है कि उसकी हत्या की गयी है और उसके करोड़ों रुपये उसके अकाउंट से निकाले गये. इस मामले की जांच सीबीआई कर रही है जबकि ईडी भी इस मामले में अलग से जांच कर रहा है.’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*