भाजपा की किरकिरी, SC ने आप के कुलदीप को मेयर घोषित किया

भाजपा की किरकिरी, SC ने आप के कुलदीप को मेयर घोषित किया। राहुल ने कहा मसीह तो मोहरा है, पीछे मोदी का चेहरा है। कोर्ट के हस्तक्षेप से लोकतंत्र की जान बची।

सुप्रीम कोर्ट के हस्तक्षेप से चंडीगढ़ में लोकतंत्र की जान बच गई। कोर्ट ने आज मंगलवार को आप के कुलदीप को मेयर घोषित कर दिया। इसके बाद से सोशल मीडिया पर #SupremeCourt ट्रेंड कर रहा है। चंडीगढ़ मेयर चुनाव की वोटिंग के बाद चुनाव अधिकारी अनिल मसीह ने कैमरे के सामने बैलेट पेपर पर दाग लगा कर अवैध घोषित कर दिया था। जबकि आप और कांग्रेस के संयुक्त प्रत्याशी को स्पष्ट बहुमत था। मसीह ने आप और कांग्रेस के मतों पर कलम चला कर अवैध घोषित किया था। उसने यहां से भाजपा प्रत्याशी को विजयी घोषित कर दिया था। इसका वीडियो देशभर में वायरल हुआ था। इसे लोकतंत्र का मजाक कहा गया था। इसके बाद मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंचा। सुप्रीम कोर्ट में मसीह ने अपना जुर्म कबूल कर लिया।

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद मतों को सुरक्षित रखा गया था। आज कोर्ट ने मतों की गिनती करके कांग्रेस तथा आप के संयुक्त प्रत्याशी को विजयी घोषित कर दिया। इसके बाद से सुप्रीम कोर्ट की लोग सराहना कर रहे हैं। हालांकि यह सवाल भी लोग पूछ रहे हैं कि अनिल मसीह तो मोहरा था। उसने किसके कहने पर खुलेआम धांधली की। उस बॉस का खुलासा कब होगा और कब सजा मिलेगी।

इधर राहुल गांधी ने तीखा हमला बोलते हुए कहा लोकतंत्र की हत्या की भाजपाई साजिश में मसीह सिर्फ ‘मोहरा’ है, पीछे मोदी का ‘चेहरा’ है। वहीं दिल्ली के मुख्यमंत्री और आप के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने भाजपा पर कोई हमला नहीं किया, लेकिन कहाकुलदीप कुमार एक गरीब घर का लड़का है। INDIA गठबंधन की ओर से चंडीगढ़ का मेयर बनने पर बहुत बहुत बधाई। ये केवल भारतीय जनतंत्र और माननीय सुप्रीम कोर्ट की वजह से संभव हुआ। हमें किसी भी हालत में अपने जनतंत्र और स्वायत्त संस्थाओं की निष्पक्षता को बचाकर रखना है।

बंगाल में BJP नेताओं ने IPS अधिकारी को खालिस्तानी कहा, बवाल

By Editor