शाह के लौटते ही सीमांचल में नीतीश-तेजस्वी करेंगे भाईचारा रैली

शाह के लौटते ही सीमांचल में नीतीश-तेजस्वी करेंगे भाईचारा रैली

भाजपा में प्रधानमंत्री के बाद दूसरे सबसे बड़े नेता अमित शाह दो दिनों के लिए पूर्णिया-किशनगंज आ रहे। उनके लौटते ही महागठबंधन की भाईचारा रैली। लालू भी बोले..।

हालांकि 2024 लोकसभा चुनाव में अभी डेढ़ साल का वक्त है, पर बिहार की राजनीति गरमा गई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बाद भाजपा के दूसरे सबसे बड़े नेता अमित शाह दो दिन बाद 23 और 24 सितंबर को बिहार यात्रा पर बिहार आ रहे हैं। वे पूर्णिया और किशनगंज में सभाओं को संबोधित करेंगे। इस इलाके में मुसलमानों की आबादी अपेक्षाकृत अधिक है। महागठबंधन के सूत्रों ने नौकरशाही डॉट कॉम को बताया कि अमित शाह के लौटते ही इस इलाके में भाईचारा रैली की जाएगी। एक ने सद्भाव रैली की बात कही। इस बीच आज बुधवार को राजद प्रमुख लालू प्रसाद ने भी राज्य परिषद के नेताओं को संबोधित करते हुए अमित शाह के बिहार दौरे के प्रति सचेत किया।

महागठबंधन की भाईचारा रैली या सद्भाव रैली दुर्गा पूजा के बाद होगी। सूत्रों ने बताया कि रैली में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और तेजस्वी यादव दोनों शामिल होंगे। तेजस्वी यादव के बारे में कहा गया कि उन्होंने अपनी सहमति दे दी है।

इधर राजद प्रमुख लालू प्रसाद ने आज पार्टी कार्यालय में राज्य परिषद के नेताओं से कहा कि पूरी मजबूती के साथ धर्मनिरपेक्षता और सामाजिक न्याय की विचारधारा को मजबूती प्रदान करना है और इसको कायम रखने के लिए हमें अपने संकल्पों पर आगे बढ़ना है। 2024 में इसी संकल्प के साथ भाजपा को उखाड़ फेंकना है। हमने कभी भी भाजपा से समझौता नहीं किया और अपने विचारधारा पर मजबूती के साथ आगे बढ़े जिस कारण आज हमें सफलता मिली और बिहार में महागठबंधन की सरकार बनी। किशनगंज, अररिया, पूर्णियां जैसे इलाके में अमित शाह किस मंशा से आ रहे हैं यह हमसभी को समझना होगा क्योंकि इनके मन में काला है। और जैसी डिजाईन बनायी जा रही है उसके लिए सभी को सजग रहना होगा। नीतीश जी इस मामले में सजग हैं और वो सारे मामले को तेजस्वी जी के साथ मिलकर देख रहे हैं। भाजपा के पाखंड और साम्प्रदायिक सोच से बचना होगा। आज मस्जिदों पर भगवा झंडा फहराकर साम्प्रदायिककरण करने का प्रयास चल रहा है, इससे बचने के लिए हम सभी सजग रहें और उसके लिए राजद और महागठबंधन के सभी नेता वैसी नीतियों के खिलाफ इकट्ठे होकर सामना करें और पूरी शांति के साथ ऐसे तत्वों को बेनकाब करें जो देश को कमजोर करना चाहती है।

भारत जोड़ो : अब SC ने कहा, एंकर हिंदू-मुस्लिम में नफरत न फैलाएं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*