शराबबंदी : रोज 1800 छापेमारी और 13 हजार लीटर शराब जब्ती

शराबबंदी : रोज 1800 छापेमारी और 13 हजार लीटर शराब जब्ती

सीएम नीतीश कुमार ने शराबबंदी की समीक्षा की। अपर मुख्य सचिव केके पाठक ने बताया-औसतन रोज 1800 छापेमारी और 13 हजार लीटर शराब जब्त हो रही।

आज मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शराबबंदी की समीक्षा की। बैठक में विभाग के वरिष्ठ अधिकारी केके पाठक ने जानकारी दी कि रोज औसतन 1800 छापेमारियां हो रही हैं। औसतन रोज 13 हजार लीटर शराब जब्क की जा रही है, 350 गिरफ्तारियां हो रही हैं और 50 वाहन जब्त हो रहे हैं।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने एक अणे मार्ग स्थित लोक संवाद में विधि व्यवस्था एवं मद्य निषेध के क्रियान्वयन से संबंधित उच्च स्तरीय समीक्षा बैठक की और अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए। बैठक में अपर पुलिस महानिदेशक मुख्यालय ने प्रस्तुतीकरण के माध्यम से गश्ती वाहन, पैदल गस्त, क्षेत्रीय विधि विज्ञान, प्रयोगशाला का निर्माण कार्य, स्पीडी ट्रायल में तेजी, भूमि विवाद निपटारा, कब्रिस्तान की घेराबंदी आदि के संबंध में विस्तृत जानकारी दी।

बैठक में उत्पाद एवं निबंधन विभाग के अपर मुख्य सचिव केके पाठक ने प्रस्तुतीकरण के माध्यम से शराब के धंधे में लिप्त लोगों के यहां छापेमारी, गिरफ्तारी, वाहन जब्ती, शराब की जब्ती, शराब को नष्ट करना, ड्रोन, मोटर बोट, स्वान दस्ता आदि के माध्यम से छापेमारी अभियान, कॉल सेंटर में आने वाले कॉल को लेकर हो रही कार्रवाई, जहरीली शराब से होने वाली मृत्यु को लेकर दोषियों पर कार्रवाई आदि के संबंध में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि रोज 1800 सौ छापेमारी, 350 गिरफ्तारियां और 50 वाहन तथा 13000 लीटर शराब पकड़े जा रहे हैं।

बैठक में मुख्यमंत्री ने कहा कि अपराध नियंत्रण सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। इसमें कोई कोताही न हो। उन्होंने शराबबंदी पर कहा कि पटना पर विशेष नजर रखें। गड़बड़ी करनेवाले लोगों की पहचान कर सख्त कार्रवाई करें। उन्होंने जहरीली शराब बनानेवालों पर भी सख्त कार्रवाई का आदेश दिया। मुख्यमंत्री ने कहा कि बिहार के लोगों की मानसिकता अच्छी है। गड़बड़ी करनेवाले लोगों की संख्या कम है। ऐसे लोगों की पहचान कर कार्रवाई करें।

भगवा उतार फिर लहराया तिरंगा, उपेंद्र कुशवाहा भी गरजे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*