Singhu Border पर किसानों पर हमला, पुलिस मूकदर्शक बनी रही

Singhu Border पर किसानों पर हमला, पुलिस मूकदर्शक बनी रही

Singhu Border उत्तर-पूर्व दिल्ली में पुलिस की सह पर स्थानीय लोगों ने हमला किया, देश के गद्दारों को.. नारे लगाये, तम्बुओं को उखाड़ा और पत्थरबाजी की.

एनडीटीवी की रिपोर्ट में बताया गया है कि दिल्ली पुलिस वहां मौजूद थी इसके बावजूद स्थानीय लोग किसानों पर हमला किया. एनडीटीवी की फुटेज में दिखा जा सकता है कि किसानों के तम्बुओं को क्षतिग्रस्त किया गया और बड़े पैमाने पर पत्थरबाजी की गयी. जवाब में आंदोलनकारियों ने भी पत्थरबाजी की.

सवाल यह है कि दल्ली जल बोर्ड ने सिंघु बोर्डर पर किसानों के पानी की सप्लाई रोक दी थी. वहां किसी को जाने नहीं दिया जा रहा था तो ऐसे में लोकल लोग उन पर हमला करने कैसे आ गये.

किसानों के समर्थन में 16 दल एकजुट, लिया ये बड़ा फैसला

सिंघु बॉर्डर पर इस हमले से सीएए प्रोटेस्ट के दौरान हुए हमले की याद ताजा कर दी है. जब भाजपा के कपिल मिश्रा अपने समर्थकों के साथ आंदोलनकारियों के पास पहुंच कर धमकी दे रहे थे. एनडीटीवी की रिपोर्ट में बताया गया है कि हमला करने वाले जय श्रीराम और देश के गद्दारों को…. नारे लगा रहे थे.

इस बीच सीपीआईएम के ट्वीटर हैंडल से हमले के बाद की तस्वीरें जारी की गयी हैं. इस हैंडल से लिखा गया है कि भाजपा-आरएसएस के गुंडों ने सिंघु बॉर्डर पर किसानों पर हमला किया. इस हमले के दौरान वहां आरएएफ और दिल्ली पुलिस मोजूद थी और वह मूकदर्शक बनके देख रही थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*