सिर्फ 48 घंटे में पुलिस ने अपहृत बच्चे को किया बरामद

सिर्फ 48 घंटे में पुलिस ने अपहृत बच्चे को किया बरामद

26 जनवरी को मधुबनी के छज्जना गांव से अपराधियों ने बच्चे का अपहरण किया। तुरंत पुलिस सक्रिय हुई और 48 घंटे में बच्चे को बरामद कर लिया।

गणतंत्र दिवस के दिन 26 जनवरी को करीब 18:30 बजे छज्जना गांव, थाना लौकही नरहिया ओपी, जिला मधुबनी से पांच वर्ष के आयुष कुमार, पिता सरोज कुमार राम का अपहरण करके ग्रामीण ललन कुमार मुखिया, अमित कुमार चौपाल, रोशन कुमार मंडल, दिनेश कुमार साह एवं किशुन मंडल सभी छज्जना, थाना लौकही द्वारा कर लिया गया था।

इस संबंध में पीड़ित बच्चे के परिजन के आवेदन पर मामला दर्ज किया गया। पीडित बच्चे के दादा सहित रोहित कुमार के मोबाइल पर नेपाली मोबाइल नंबर से फोन कर 30,000, 00 रूपए मांगे गए। दिनांक 27 जनवरी को धारा 364 ए/ 34 के अंतर्गत उपर्युक्त पांच नामजद अभियुक्तों के विरुद्ध दर्ज किया गया।

पुलिस अधीक्षक मधुबनी द्वारा अपहृत बच्चे की सकुशल बरामदगी एवं अपराधियों की गिरफ्तारी हेतु अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी, फुलपरास के नेतृत्व में एक विशेष टीम का गठन किया गया।

40 हजार पुलिसकर्मियों की नौकरी से बेदखली का परवाना जारी

विशेष टीम द्वारा तकनीकी अनुसंधान एवं गुप्त सूचना के आधार पर त्वरित कार्रवाई की गई। 27 जनवरी को कांड में संलिप्त ललन कुमार मुखिया, अमित कुमार चौपाल को गिरफ्तार किया गया। गिरफ्तार अपराधियों की निशानदेही पर ग्राम कटैया, थाना भीम नगर ओपी, जिला सुपौल से अपराधकर्मी दिनेश कुमार साह को 28 जनवरी को करीब 5:00 बजे गिरफ्तार किया गया तथा उसके पास से अपहृत बच्चा आयुष कुमार को सकुशल बरामद कर लिया गया।

पुलिस ने इस दौरान एक बोलेरो गाड़ी और नेपाली सिम के साथ एक मोबाइल भी बरामद किया है।

पुलिस की त्वरित कार्रवाई से बच्चे की सकुशल वापसी होने पर बच्चे के परिजनों और गांववालों में खुशी व्याप्त हो गई। बच्चे के परिजनों ने सभी पुलिसकर्मियों और विशेषकर जिले के एसपी को धन्यवाद कहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*