श्याम रजक जी! ये तस्वीर देखिए और बोलिए कि आप मनीषा दयाल को जानते हैं या नहीं?

मनीषा दयाल ने भले ही अपने फेसबुक अकाउंट डिएक्टिवेट कर लिया हो पर उनकी वह तस्वीर नौकरशाही डॉट कॉम के हाथ लग गयी है जिसमें वह जदयू नेता श्याम रजक के साथ बर्थडे सेलेब्रेट कर रही हैं.

मनीषा का फेसबुक पेज डिएक्टिवेट किया जा चुका है

आसरा शेल्टर होम में दो बच्चियों की मौत और बाकियों की पीड़ादायक जिंदगी की बात सामने आने के बाद मनीषा को गिरफ्तार कर लिया गया है. इसके बाद उनकी तस्वीर पूर्व मंत्री व जदयू नेता श्याम रजक के साथ वॉयरल हुई थी. इस पर श्याम रजक ने कहा था कि सार्वजनिक जीवन में वह कई समारोहों में जाते हैं जहां लोग उनके साथ तस्वीर खिचवा लेते हैं, जिन्हें वह जानते तक नहीं.
लेकिन नौकरशाही डॉट कॉम को मनीषा और रजक की वह तस्वीर हाथ लगी है जिसे मनीषा ने अपने फेसबुक अकाउंट से शेयर किया था. इस तस्वीर को मनीषा ने  22 जुलाई को दो पहर एक बज कर 4 मिनट पर अपने फेसबुक अकाउंट से शेयर किया था जिसमें लिखा था- हैपी बर्थ डे श्याम रजक जी. इस तस्वीर में रजक और मनीषा बैठे हैं और रजक के हाथ में प्याली है.
मनीषा की गिरफ्तारी के बाद उनका फेसबुक अकाउंट डिएक्टिवेट किया जा चुका है.
 
वहीं मनीषा दयाल ने अपनी गिरफ्तारी से पहले कहा था कि मुझपर सारे गलत आरोप लगाए गए हैं। आसरा गृह की युवतियां पहले से ही बीमार थीं और उसी वजह से उनकी मौत हो गई।
 
 आसरा गृह में दो युवतियों की संदिग्ध मौत हुई है, उसकी कोषाध्यक्ष मनीषा दयाल के बारे में जानकारी मिल रही है कि वो पटना की हाई प्रोफाइल पार्टियों का नामचीन चेहरा है और राजनेताओं के साथ भी उसके अच्छे ताल्लुकात हैं। वह कई तरह की संस्थाएं चलाती है और कई क्लबों से जुड़ी हुई है।
मनीषा के फेसबुक प्रोफाइल पर शामिल उसकी तस्वीरें बिहार के शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन वर्मा, पीएचडी मंत्री विनोद नारायण झा, पूर्व मंत्री श्याम रजक (जेडयू), पूर्व मंत्री शिवचन्द्र राम और आरजेडी प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी के साथ तेजी से वायरल हो रही हैं।
 
मनीषा की नेताओं के साथ तस्वीरें वायरल हुईं तो सवाल भी उठने लगे, लेकिन पूछे जाने पर सभी नेताओं ने एक साथ कह दिया कि नेताओं के साथ कोई भी तस्वीर ले सकता है। नेताओं की मानें तो वो राज्य और राजधानी के कई कार्यक्रमों में जाते हैं। ऐसे में किस प्रोग्राम में किसने हमारे साथ तस्वीरें लींं, पता नहीं चल पाता है।
गौरतलब है कि मनीषा पटना की हाइप्रोफाइल महिला हैं और उनके संबंधों और रसूख का पता उनके साथ मंत्रियों की तस्वीरों से चलता है. उन पर आरोप है कि उन्होंने अपने रसूख का फायदा उठा कर करोड़ों के सरकारी टेंडर लिये जिसमें अनाथ बच्चियों को रखा जाता था. लेकिन उनके शेल्टर होम में लड़िकियों बुरी हालत में रहती थी जिसके कारण दो बच्चियों की मौत की खबर आई. और कई गजडबड़ियां पाई गयीं. मनीषा फिलवक्त गिरफ्तार की जा चुकी हैं.
 
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*