SUPER EXCLUSSIVE: पटना के नये कमिशनर Robert Congthu क्रिमिनल से सांठ-गांठ के आरोपी, बेल पर हैं बाहर

Super Exclussive: एक तरफ रेप व बलात्कार से बिहार शर्मशार है वहीं एक ऐसे IAS अफसर Robert Congthu को पटना का कमिशनर बना दिया गया है जो क्रिमिल्स से सांठ-गांठ समेत छह मामलों के आरोपी हैं और बेल  ले कर जेल से बाहर हैं.

Ropbet Chonthu

पटना प्रमंडल

About The Author

इर्शादुल हक, एडिटर, नौकरशाही डॉट कॉम

ये अधिकारी हैं  रॉबर्ट लालचुंगनुंगा चुंगथू (Robert Congthu) लालचुंगनुंगा चुंगथू आईपीसी की धारा 109, 419, 420, 467, 468, 471 और 120 बी के अलावा आर्म्स एक्ट 30 जैसे गंभीर मामलों का सामना कर रहे हैं.

 

रॉबर्ट लालचुंगुंगा चुंगथू को बिहार सरकार ने 28 अगस्त को आनंद किशोर को हटा कर पटना का कमिशन मुकर्रर किया है. राजधानी पटना समेत भोजपुर, रहोतास, कैमूर, नालंदा, बक्सर जिलों के कानून व्यवस्था की जिम्मेदारी संभालेंगे.

नौकरशाही डॉट कॉम के पास चुंगथू के ऊपर लगे गंभीर इल्जामात के Exclussive दस्तावेज मौजूद हैं.

लालचुंगनुंगा चुंगथू पर जो आधा दर्जन मामले चल रहे हैं उनमें  फर्जरी, धोखाधड़ी और यहां तक की क्रिमिनल्स से सांठ-गांठ तक करने के गंभीर आरोप हैं. इन मामलों में लालचुंगनुंगा चुंगथू ने पटना हाईकोर्ट से एंटिसिपेटरी बेल ले रखा है. इसके एवज उन्होंने दस हजार रुपये का मुचलका भी भरा है. ये मामले 2004 के हैं जब चुंगथू सहरसा के डीएम थे. तब क्रिमिनल्स इंसवेस्टिगेशन डिपार्टमेंट (CID) ने पाया था कि चुंगथू ने अपने पद का दुरोपयोग कर और कानूनी प्रावधानों की धज्जी उड़ाते हुए  अपराधियों को आर्म्स लाइसेंस जारी कर दिया था. जांच में यह बात भी सामने आयी थी कि चुंगथू के इस अपराधी से निकट संबंध थे. इस तरह कानून के रखवाले चुंगथू ने कानून की धज्जी उड़ाने वाले दुर्दांत अपराधी की मदद की थी. इतना ही नहीं चुंगथू पर भ्रष्टाचार के भी आरोप हैं.

पढ़ें- रॉबर्ट एल चुंगथू बने पटना के कमिशनर

इन मामलों में चुंगथू के खिलाफ लीगल एक्शन लिया गया था और उन पर विभिन्न धाराओं में केस दर्ज किया गया था. स्थानीय अदालत ने इस गंभीर मामले में चार सप्ताह के अंदर गिरफ्तार या खुद सरेंडर करने का आदेश दिया था.इसी बीच चुंगथू ने 3 सितम्बर 2015 को पटना हाई कोर्ट से एंटिसिपेटरी बेल लिया था.

 

चुंगथू को पटना प्रमंडल का कमिशनर ऐसे समय में बनाया गया है जब राज्य में कानून व्यस्था की स्थिति सबसे बुरे दौर में है. हाल ही में सरकारी आंकड़ों में यह खुलासा हुआ है कि राज्य में बलात्कार और हत्या के मामले में भयावह वृद्धि हुई है. एक वर्ष में अपराध में 20 प्रतिशत का इजाफा हुआ है जबकि बलात्कार के मामले 23 प्रतिशत बढ़े हैं.

 

विपक्षे नेता तेजस्वी यादव लगातार इन मामलों पर सरकार को निशाना बना रहे हैं. उन्होंने दोषी नौकरशाहों को बचाने तक का आरोप नीतीश सरकार पर लगाया है. ऐसे में चुंगथू जैसे दागी अफसर को पटना का कमिशनर बना कर छह जिलों के कानून व्यस्था की जिम्मेदारी सौंपने के मामेले में हंगामा खड़ा हो सकता है.

 

गौर करने की बात है कि मुजफ्फरपुर और पटना समेत अनेक शेल्टर होम में बलात्कार, हत्या और भ्रष्टाचार जैसी भयावह घटनाओं से शर्मशार बिहार में चुंगथू को यह बड़ी जिम्मेदारी कानून का राज स्थापित करने के प्रयास के रूप में दी गयी है.

Robert Congthu कौन

रॉबर्ट एल चुंगथू मेघालय के शिलांग के रहने वाले हैं. वह सहरसा के डीएम के अलावा भागलपुर के प्रमंडलीय आयुक्त रह चुके हैं. बीते दिनों उन्हें आनंद किशोर की जगह पटना का आयुक्त नियुक्त किया गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*