गांव, गरीब और किसान पर केंद्रित है बजट

उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने आज कहा कि चालू वित्त वर्ष के लिए आज संसद में पेश आम बजट गांव, गरीब और किसानों पर केन्द्रित तथा रोजगार पैदा करने वाला है।

श्री मोदी ने केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा वित्त वर्ष 2019-20 के लिए संसद में पेश मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के पहले आम बजट पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि बजट गांव, गरीब एवं किसानों पर केन्द्रित तथा रोजगार पैदा करने वाला है। उन्होंने कहा कि मध्यम और सामान्य वर्ग के लोगों के लिए कर में जहां कोई वृद्धि नहीं की गयी है वहीं अमीरों, पूंजीपतियों पर कर का बोझ बढ़ाकर उससे प्राप्त राजस्व से गांव, गरीब एवं किसानों को आवास, बिजली, पानी, रसोई गैस के कनेक्शन दिए जायेंगे।

उप मुख्यमंत्री ने कहा कि अगले तीन साल में 1.95 करोड़ घर बनेंगे, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत एक लाख 25 हजार किलोमीटर सड़कों के निर्माण पर अगले पांच साल में 80250 करोड़ रुपये खर्च किये जाएंगे।  बिहार के उद्योग जगत ने संसद में चालू वित्त वर्ष के लिए पेश आम बजट को स्वागतयोग्य बताया और कहा कि यह प्रगतिशील और देश के सर्वांगीण विकास केे लिए दीर्घकालीन दृष्टिकोण वाला बजट है।
बिहार इंडस्ट्रीज एसोसिएशन (बीआईए) के महासचिव महाबीर प्रसाद बिदासरिया ने केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा वित्त वर्ष 2019-20 के लिए संसद में पेश मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के पहले आम बजट पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि यह प्रगतिशील और देश के सर्वांगीण विकास के लिए दीर्घकालीन दृष्टिकोण वाला बजट है। इसमें ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में आवास योजनाओं, सड़क, रेल और हवाई क्षेत्रों में आधारभूत संरचना को बढ़ावा देने के साथ-साथ युवा तथा महिला उद्यमियों को विशेष प्रोत्साहित करने जैसे कदम उठाये गये हैं। पिछले पांच वर्षों में आर्थिक प्रगति के तथ्यों पर आधारित और विकास की नीतियों के आधार पर पांच खरब डाॅलर की परिकल्पना की गई है।
श्री बिदासरिया ने कहा कि बैंकिंग क्षेत्र में पुनर्गठन के साथ 70 हजार करोड़ रुपये से अधिक राशि उपलब्ध कराने का प्रयास किया जा रहा है, जिससे उद्योग को ऋण मिलने में सहुलियत होगी। उन्होंने कहा कि अलग-अलग श्रम कानूनों को मिलाकर चार श्रम कोड बनाने का विचार किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*