सुशील मोदी को पहले राजद, फिर कांग्रेस ने भी घेरा

सुशील मोदी को पहले राजद, फिर कांग्रेस ने भी घेरा

आज भाजपा सांसद सुशील मोदी अपने बयान से घिर गए। बयान के बाद सोशल मीडिया पर लोगों ने सवालों की बौछार कर दी। जानिए राजद और कांग्रेस ने क्या कहा।

कुमार अनिल

देश में किसानों का आंदोलन चल रहा है। रोज लाखों बेरोजगार जॉब मांग रहे हैं। महंगाई से लोग बेहाल हैं, लेकिन इन सवालों पर बोलने के बजाय भाजपा सांसद ने कल सवाल उठाया कि देश के पहले पांच शित्रा मंत्री एक ही समुदाय से क्यों हुए? यह सवाल उन्होंने राहुल गांधी से पूछा।

सोशल मीडिया पर भाजपा सांसद का ट्विट आते ही सबसे पहले राजद ने जवाबी हमला करते हुए प्रश्नवाचक चिह्न के साथ उन्हें धर्मांध संघी कहा। राजद ने ट्विट किया कि भाजपा सासंद का सवाल तथ्य पर आधारित नहीं है। कहा- पहली बात तो यह कि देश के पहले पांच शिक्षा मंत्री एक ही समुदाय के नहीं थे। दूसरी यह कि अगर पहले पांच शिक्षा मंत्री एक ही समुदाय के होते, तो इसमें गलत क्या है धर्मांध संघी? यह धर्मनिरपेक्ष हिंदुस्तान है, कोई संघिस्तान नहीं।

वैक्सीन लेने के 22 दिन बाद मेडिकल छात्र की मौत

इसके साथ भाजपा सांसद के ट्विटर टाइम पर लोग लगातार सवाल दाग रहे हैं। कई लोगों ने विभिन्न साइट पर प्रकाशित देश के शिक्षा मंत्रियों की सूची साझा करके दिखाया कि पहले पांच शिक्षा मंत्री एक ही समुदाय के नहीं थे।

हालांकि भाजपा सांसद ने स्पष्ट रूप से समुदाय विशेष का नाम उल्लेख नहीं किया, पर उनका इशारा साफ था कि वे किस वर्ग के लोगों को निशाने पर ले रहे हैं। @IndianUnsilent ने कहा कि जो दिन भर पाकिस्तान, नेहरू का ट्विट-ट्विट खेलते हैं, उनसे बेरोजगारी दूर करने की उम्मीद नहीं की जा सकती।

विकास दिवस पर युवाओं ने डाला रंग में भंग, सत्ता से टकराए

उधर, युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीनिवास बीवी @srinivasiyc ने पूछा कि क्या आप वही छोटे मोदी हैं, जिनके कुर्सी पर बैठते ही नीचे से कुर्सी खिसका दी गई और जिन्हें बिहार की राजनीति से बेआबरू करके रुखसत किया गया।

अशोक कुमार पांडे ने ट्विट किया-आप तो सही इतिहास भी नहीं लिख पा रहे। भारत के दूसरे शिक्षामंत्री थे कालू लाल श्रीमाली जी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*