पटना जल प्रलय में निलंबित IAS एपी सिंह को मिली बड़ी जिम्मेदारी

पटना जल प्रलय में निलंबित IAS एपी सिंह को मिली बड़ी जिम्मेदारी

पटना जल प्रलय में मची तबाही और हाहाकार के दौरान बिहार शहरी आधादरभूत कार्पोरेशन ( बुडको) के प्रबंध निदेशक के पद से निलंबित IAS Amrendra Prasad Singh को सरकार ने बड़ी जिम्मेदारी सौंपी है.

Amrendra prasad Singh को उद्योग विभाग का विशेष सचिव बनाया गया है. अमरेंद्र प्रसाद सिंह वेटिंग फॉप पोस्टिंग पर चल रहे थे.

गौरतलब है कि 2019 के बरसात में पटना के पाश इलाके कंकड़बाग, राजेंद्र नगर समते अनेक क्षेत्र भीषण जलजमाव के कारण डबू गये थे. इस दौरान दो हफ्ते तक पानी घरों में घुसा रहा और लाख लोग अपने घरों से निकल नहीं पाये थे. इस कारण बड़े पैमाने पर लोग खाने और पानी को तरस गये थे.पटना के जलप्रलय ने गरीबों के अलावा ऐसे अमीरों को भी अपना शिकार बनाया जिन्होंने जीवन में कभी अभाव नहीं देखा. लेकिन तमाम साधन व सम्पन्नता के बावजूद हजारों लोगों को पीने का पानी नसीब नहीं था.

जलप्रलय से पीड़ित ब्रह्मण ने Food Packet ग्रहण करते हुए मौलाना इस्लाही का हाथ चूम लिया

जांच के बाद पाया गया कि नगरनिगम, बुडको के अधिकारी और इंजीनियरों की भारी लापरवाही के कारण लोग जल प्रलय के शिकार हुए थे.

जांच के बाद नगर विकास विभाग के सचिव आनंद किशोर ने बताया था कि जल जमाव के बाद गठित जांच समिति की रिपोर्ट और इसपर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के अनुमोदन के बाद यह कार्रवाई की गई । जिन अधिकारियों पर कार्रवाई हुई है उनके खिलाफ गंभीर आरोप हैं। बुडको के तत्कालीन एमडी अमरेंद्र प्रसाद सिंह पर संप हाउस की व्यवस्था की मॉनिटरिंग और संचालन की व्यवस्था की समीक्षा नहीं की गई। रख-रखाव और मरम्मति कार्य का अनुश्रवण भी नहीं किया गया। 

इस घटना के बाद अमरेंद्र प्रसाद सिंह के अलावा 26 अफसरों और इंजीनियरों पर कार्वाई की गयी थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*