निर्भया कांड की तरह मुजफ्फरपुर बलात्कार को तेजस्वी ने राष्ट्रीय मुद्दा बना डाला, विपक्ष के तमाम लीडर आंदोलन में कूदे

तेजस्वी यादव ने मुजफ्फरपुर बलात्कार के खिलाफ आंदोलन को 2012 के निर्भया रेपकांड के खिलाफ हुए आंदोलन की तरह व्यापक आंदोलन बनाने में सफल रहे हैं. उन्होंने जंतर-मंतर पर आयोजित कैंडल मार्च में भाजपा गठबंधन को छोड़ कर लगभग सभी प्रमुख विपक्षी दलों को एक मंच पर लाने में सफलता प्राप्त कर ली.

इस अवसर पर, राजद के अलावा कांग्रेस आम आदमी पार्टी, तृणमूल कांग्रेस, सीपीआई, सीपीआई एम, लोकतांत्रिक जनता दल के अलावा जेएनयू व दिल्ली विश्वविद्यालय के छात्र, अम्बेडकर महासभा समेत दर्जनों संगठन के नेताओं ने हिस्सा लिया.  मुजफ्फरपुर महापाप को तेजस्वी ने राष्ट्रीय मुद्दा बनाने की कामयाब कोशिश की. जिसका नतीजा यह हुआ कि सभी प्रमुख विपक्षी दल इस आंदोलन में कूद पड़े.

 

पढिये इस अवसर पर किन प्रमुख नेताओं ने क्या कहा.

 

राहुल गांधी

अगर सच में नीतीश जी को शर्म आ रही है तो वह कार्रवाई करके दिखाएं। उन्होंने कहा कि इस समय आरएसएस एक तरफ है और पूरा विपक्ष दूसरी तरफ है। राहुल गांधी ने कहा, “भारत अपनी संस्कृति, इतिहास और संस्थाओं पर हमले को कभी बर्दाश्त नहीं करेगा।”

केजरीवाल, सीए दिल्ली

बीजेपी के नेता महिला पत्रकारों को ट्रोल करते हैं। उन्होंने कहा कि खुद बीजेपी की कई नेता सुरक्षित नहीं हैं। उन्होंने कहा, “मैं उन्हें कहना चाहता हूं कि देश में जो गंदा माहौल बनाया गया है, उसको ठीक किया जाए।” केजरीवाल ने आरोपियों को मौत की सजा देने की मांग की है।

 

तेजस्वी यादव

नीतीश कुमार ने मामले के एफआईआर से आरोपी ब्रजेश ठाकुर का नाम हटवाया था। तेजस्वी ने कहा कि बिहार में जंगलराज नहीं, बल्कि राक्षसराज है। उन्होंने सवाल किया कि आखिर क्यों नीतीश कुमार ने एफआईआर से आरोपी ब्रजेश ठाकुर का नाम हटवाया। आखिर क्यों दो महीने बाद मामले में एफआईआर दर्ज की गई। तेजस्वी ने कहा, “इस मामले के गुनाहगारों को जेल भेजने और फांसी तक पहुंचाने का काम हम करेंगे।”

 

शरद यादव

मुजफ्फपुर कांड के खिलाफ जंतर-मंतर पर जारी आरजेडी के प्रदर्शन को संबोधित करते हुए वरिष्ठ नेता शरद यादव ने देश भर के आश्रय गृहों की जांच कराने की मांग की। उन्होंने एक जज की अध्यक्षता में एक जांच समिति के गठन की मांग की।

 

सीताराम येचुरी

बिहार के मुजफ्फपुर कांड के खिलाफ जंतर-मंतर पर प्रदर्शन को संबोधित करते हुए सीपीएम नेता सीताराम येचुरी ने कहा कि अगर हम देश को बचाना चाहते हैं, तो मोदी और नीतीश की सरकारो को हटाना होगा। वरिष्ठ सीपीएम नेता ने कहा, बीजेपी-एनडीए से बेटी बचाओ। वे लोग गाय को बचाने की बात करते हैं और हमारी मां-बहनों पर अत्याचार हो रहा है।

दिनेश त्रिवेदी- टीएमसी

जंतर-मंतर पर प्रदर्शन को संबोधित करते हुए तृणमूल कांग्रेस के दिनेश त्रिवेदी ने कहा कि टीएमसी अध्यक्ष और पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने उन्हें विशेष रूप से लोगों का दर्द बांटने के लिए भेजा है। उन्होंने कहा कि “हम इश बात पर शर्मिंदा हैं कि हमारे देश की पहचान रेप की घटनाओं से होती है। अब जनता की अदालत अपना फैसला करेगी। बीजेपी के लोग रामराज्य की बात करेत हैं, लेकिन वे खुद उस पर अमल नहीं करते हैं।”

 

डी राजा, सीपीआई

मुजफ्फरपुर कांड के खिलाफ जंतर-मंतर पर प्रदर्शन कर रहे लोगों को संबोधित करते हुए सीपीआई नेता डी राजा ने कहा कि “नीतीश कुमार मेरे अच्छे मित्र हैं, लेकिन उन्हें सीएम रहने का कोई नैतिक अधिकार नहीं है। मैं नीतीश कुमार से पूछना चाहता हूं कि क्या आपमें कोई नैतिकता है। आप कैसे बीजेपी के साथ गठबंधन कर सकते हैं।” डी राजा ने नीतीश कुमार से इस्तीफे की मांग करते हुए कहा कि बीजेपी हटाओ, देश बचाओ।

कन्हैया कुमार, छात्र नेता

सीबीआई जांच के नाम पर नीतीश सरकार मुजफ्फरपुर कांड की सच्चाई को दबाना चाहती है।

सहला राशिद

हर मामले पर ट्वीट करने वाले पीएम मोदी ने आखिर इस मामले पर अब तक ट्वीट क्यों नहीं किया है। छात्र नेता ने कहा, “कठुवा से लेकर मुजफ्फरपुर तक हर मामले के पीछे बीजेपी के लोग हैं।”

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*