तेजस्वी ने इशारों में फातमी को धमकाया, बगावत की तो छह साल के लिए पार्टी से कर देंगे बाहर

तेजस्वी ने इशारों में फातमी को धमकाया, बगावत की तो छह साल के लिए पार्टी से कर देंगे बाहर

तेजस्वी ने राजद से बगावत करके चुनाव मैदान में कूदने वालों को धमकी दी है कि पार्टी से बगावत करने वाले छह साल के लिए निलंबित किये जायेंगे.माना जा रहा है कि तेजस्वी का इशारा अली अशरफ फातमी की तरफ था.

मधुबनी सीट पर बागी उम्मीदवार के रूप में अली अशऱफ फातमी चुनाव मैदान में कूदने की तैयारी कर चुके हैं.याद रहे कि यह सीट वीआईपी के खाते में गयी है.
 तेजस्वी ने कहा कि कहीं भी कोई फ्रेंडली फाइट नहीं है.
Also Read फातमी साहब गलतफहमी मत पालिये कि आप मुसलमानों के लीडर हैं.
 
हालांकि तेजस्वी ने कहा कि लोकतंत्र में सभी को फैसला लेने का अधिकार है और चुनाव लड़ने का भी अधिकार है.हम इस व्यवस्था में किसी को बांधकर नहीं रख सकते लेकिन मैं एक बात कह देना चाहूंगा कि पार्टी के खिलाफ कोई भी लड़ेगा तो उस पर कड़ी कार्रवाई होगी. पार्टी के खिलाफ जाने वालों को 6 साल तक न तो पार्टी में जगह मिलेगी और न ही कोई पद.
 

मधुबनी से लड़ सकते हैं फातमी

गौरतलब है कि पिछले दिनों अली अशरफ फातमी ने आरोप लगाया था कि लालूजी ने उन्हें दरभंगा या मधुबनी से चुनाव लड़ने को कहा था लेकिन अचानक उन्हें दरभंगा और मधुबनी दोनो क्षेत्रों से बेदखल कर दिया गया.फातमी ने कहा था कि उन्होंने पार्टी के लिए खून-पसीन दिया है.अगर उन्हें टिकट नहीं मिला तो राज्य के मुसलमानों में नाराजगी बढ़ेगी.
दरभंगा सीट से इस बार अब्दुल बारी सिद्दीकी को राजद ने टिकट दिया है.टिकट नहीं मिलने से नाराज फातमी ने अल्टीमेटम दिया था कि वह तीन अप्रैल तक इंतजार करेंगे और उसके बाद अपने सहयोगियों से विमर्श के बाद कोई फैसला लेंगे.
अली अशरफ फातमी चार बार सांसद रह चुके हैं.वह मनमोहन सिंह की सरकार में मानव संसाधन विकास राज्यमंत्री का पद भी संभाल चुके हैं. फातमी के बेटे फराज फातमी राजद के विधायक हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*