तेजस्‍वी ने जदयू पदाधिकारी पर लगाया शराब का धंधा कर पार्टी को फंडिंग करने का आरोप

पूर्व उपमुख्‍यमंत्री व राजद नेता तेजस्‍वी यादव ने जदयू के पदाधिकारी पर ज़हरीली शराब का धंधा कर पार्टी को फ़ंडिंग करने का आरोप लगाया. उन्‍होंने मुख्‍यमंत्री आवास पर भोजपुर जिले के उदवंतनगर प्रखंड अध्यक्ष राकेश सिंह द्वारा नीतीश कुमार के साथ सेल्‍फी वाली तस्‍वीर ट्विटर पर साझा करते हुए हमला बोला. मिली सूचना के अनुसार, राकेश सिंह साल 2012 में भोजपुर जिले के आरा में जहरीली शराब से हुई 29 लोगों की मौत के मामले में मुख्य आरोपी था.

नौकरशाही डेस्‍क

हालांकि राकेश सिंह की सच्चाई सोशल मीडिया में वायरल होने वाली तस्वीरों के जरिये सामने आयी तो आलाकमान ने उसे सीधे बाहर का रास्ता दिखा दिया. मगर नेता विपक्ष तेजस्‍वी यादव ने इस मामले को गंभीरता से लिया और लिखा – नीतीश जी का शराबबंदी ढोंग है. जदयू के पदाधिकारी ही ज़हरीली शराब का धंधा कर पार्टी फ़ंडिंग करते है. फिर CM ‘छवि कुमार’ उन्हें सेल्फ़ी से नवाजते है. तेजस्‍वी ने एक अन्‍य ट्विट में लिखा – ‘ज़हरीली शराब कांड के मुख्य आरोपी को सम्मान सहित नीतीश जी ने CM आवास पर बुलाकर सम्मानित किया. आरोपी जदयू का प्रखंड अध्यक्ष भी है. ठोंको ताली शराबबंदी के नाम पर’.

गौरतलब है कि दो दिन पहले बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने दहेजबंदी अभियान के तहत किये गये कार्य को लेकर आरा के एक परिवार को अपने सरकारी आवास पर बुलाया था. इस दौरान आरा के रिटायर्ड हेडमास्टर हरिंद्र सिंह के साथ-साथ राकेश सिंह नामक शख्स भी सीएम आवास पहुंचा. उसने सीएम के साथ मुलाकात के बाद राकेश ने सोशल मीडिया पर तीन तस्वीरें डालीं जिसमें एक सेल्फी और दो अन्य तस्वीरें थी. तस्वीर सोशल मीडिया में आते ही वायरल हो गईं कि जिस शख्‍स ने सीएम के साथ सेल्फी ली थी, वो साल 2012 में भोजपुर जिले के आरा में जहरीली शराब से हुई 29 लोगों की मौत के मामले में मुख्य आरोपी था. राकेश को इस मामले में सजा भी हुई थी और वो दो साल तक जेल में रहने के बाद हाल में ही जमानत पर बाहर आया था.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*