गोमांस रखने के संदेह में गौ आतंकियों ने किया हमला, मॉब लिंचिंरों से पुलिस ने दो व्यक्तियों को बचाया

गोमांस रखने के संदेह में गौ आतंकियों ने किया हमला, मॉब लिंचिंरों से पुलिस ने दो व्यक्तियों को बचाया

गौ आतंकियों ने लिया हाथ में कानून

दिल्ली-हरियाणा बोर्डर के इलाके नूह और पलवल के दो लोगों को भीड़न ने जम कर पिटाई की. खुद को गोरक्षक होने का दावा करने वालों ने उन्हें गोमांस रखने के संदेह में पकड़ा था.

इंडियन एक्सप्रेस न्यूज वेबसाइट का कहना है कि दोनों घायलों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है. पुलिस ने उन पर हरियाना गोवंश संरक्षण व गो संवर्द्धन एक्ट 2015 के तहत एफआईआर दर्ज किया है.

गौरक्षा के नाम कानून को ठेंगा

खुद को गोरक्षक बताने वाली महिला कविता कटारिया ने कहा है कि उन्हें पता चला था कि जीप में गोमांस के साथ कुछ लोग आ रहे हैं. गोरक्षकों की टीम रास्ते में उनका इंतजार कर रही थी. जब जीप वहां पुंची तो वे लोग रास्ते में खड़े हो गये. जीप रुकते ही उसमें से दो लोग उतरे और भागने लगे. वहां पर बाद में और भी ग्रामीण पहुंच गये जिन्होंने दौड़ा कर उन्हें पकड़ लिया और उनकी पिटाई की गयी

मीडिया नहीं बता रहा कि जिसके घर आतंकी गतिविधियों की जांच करने वाली एजेंसी ने छापा मारा वह NDA के नेता हैं

 

इन दोनों की पहचान साथिल अहमद और ताईद के रूप में हुई है. ये दोनों पलवल और नूह के रहने वाले हैं. इसके घटना के बाद वहां पुलिस पहुंची. दोनों को चोटें आयी हैं. उन्हें करीब के सिविल अस्पताल में इलाज के लिए भेजा गया है. पुलिस का कहना है कि उन्हें इलाज के बाद गिरफ्तार कर लिया जायेगा और संबंधित धाराओं के अनुसार उन पर कार्रवाई होगी.

जीप में प्राप्त मांस को जांच के लिए लैब में भेजा गया है. इस मामले में अभी तक दोनों व्यक्तियों के पक्ष को रिकार्ड नहीं किया गया है. पुलिस कहती है कि जब वे अस्पताल से आयेंगे तो उनका पक्ष भी नोट किया जायेगा.

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*