यूनिफॉर्म सिविल कोड RS में पेश, विपक्ष ने किया जमकर विरोध

यूनिफॉर्म सिविल कोड RS में पेश, विपक्ष ने किया जमकर विरोध

राज्यसभा में यूनिफॉर्म सिविल कोड बिल पेश हो गया। विपक्षी दलों का विरोध। विपक्ष का आरोप सरकार अल्पसंख्यकों व आदिवासियों के अधिकार छीनना चाहती है।

राज्यसभा में शुक्रवार को भाजपा सदस्य ने यूनिफॉर्म सिविल कोड (Uniform Civil Code -UCC)बिल पेश किया। बिल पेश होते ही कांग्रेस, राजद सहित विपक्ष के सारे दल सदन में जमकर विरोध कर रहे हैं। विपक्षी दलों ने केंद्र की मोदी सरकार पर आरोप लगाया कि वह अलपसंख्यकों और आदिवासियों के हक छीनने का षडयंत्र कर रही है। विपक्षी दलों के सदस्यों ने भाजपा सदस्य किरोड़ी लाल मीणा, जिन्होंने बिल पेश किया, से बिल को वापस लेने की अपील की। राज्यसभा के चेयरमैन जगदीप धनकड़ से भी आग्रह किया कि वे बिव को स्वीकार न करें।

विपक्षी दलों के सदस्यों ने कहा कि यूनिफॉर्म सिविल कोड पारित होने से देश की विविधता तथा धर्मनिरपेक्ष ताना-बाना तबाह हो जाएगा। कांग्रेस के इमरान प्रतापगढ़ी ने कहा-प्राइवेट मेंमर बिल के ज़रिये राज्यसभा में युनिफॉर्म सिविल कोड (UCC)लाकर भाजपा देश में अल्पसंख्यकों और आदिवासियों को प्राप्त कई सारे अधिकारों को छीनना चाहती है, आज जब इस बिल को सदन में पेश किया गया तब हमने और कॉंग्रेस के बाकी सदस्यों ने सभापति से इसे स्वीकार न करने की गुज़ारिश की।

कांग्रेस ने कहा कि प्राइवेट मेंमर बिल द्वारा राज्यसभा में युनिफॉर्मसिविलकोड लाकर भाजपा अल्पसंख्यकों और आदिवासियों को प्राप्त कई अधिकारों को छीनना चाहती है, आज इस बिल को सदन में पेश किया गया तब राष्ट्रीय चेयरमैन @ShayarImran जी और कॉंग्रेस के सदस्यों ने सभापति से इसे स्वीकार न करने की गुज़ारिश की।

खबर है कि राज्य सभा में विपक्ष की मांग खारिज कर दी गई है और युनिफॉर्म सिविल कोड चर्चा के लिए स्वीकार कर लिया गया है। इसके बाद भी सदन में हंगामा जारी रहा। केंद्रीय मंत्री पियूष गोयल ने सदन में कहा कि बिल पर चर्चा होगी। जिन सदस्य को आपत्ति जतानी है, वे बिल के बिंदुओं पर आपत्ति जता सकते हैं।

कुढ़नी की हार पर महागठबंधन की बैठक में होगा मंथन : कुशवाहा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*