यूपी चुनाव : महंगाई मुद्दा नहीं, शाह ने छेड़ा नया राग- JAM

यूपी चुनाव : महंगाई मुद्दा नहीं, शाह ने छेड़ा नया राग- JAM

जनता के लिए महंगाई भले ही मुद्दा हो, पर यूपी चुनाव प्रचार से इसे गायब करने की कोशिश शुरू हो गई है। गृहमंत्री शाह ने यूपी को दिया नया शब्द- JAM..। जाम मतलब?

2015 बिहार चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कटाक्ष करते हुए जदयू और राजद का फुल फॉर्म बताया था। उन्होंने जेडीयू का अर्थ जनता का दमन उत्पीड़न बताया था। आज उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ में एक विवि का शिलान्यास करने के बाद सभा में गृहमंत्री अमित शाह ने सपा पर खूब हमले किए। उन्होंने कहा कि सपा वाले जाम लेकर आए हैं। फिर उन्होंने जाम का पूरा अर्थ बताया-जे से जिन्ना, ए से आजम खान और एम से मुख्तार अंसारी।अमित शाह ने सभा में जयश्रीराम के भी नारे लगवाए।

आज गृहमंत्री अमित शाह ने अपने भाषण से स्पष्ट कर दिया कि यूपी विधानसभा चुनाव में भाजपा किस तरह के मुद्दे पर जोर देनेवाली है। उन्होंने यह भी कहा कि सपा ने आजमगढ़ को आतंकवाद और कट्टरता का केंद्र बना दिया था, जिसे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बदल कर रख दिया।

इससे पहले आज सुबह आजमगढ़ की सभा में सरकारी धन के उपयोग पर सोशल मीडिया में खूब सवाल उठे। पहली बार किसी जिलाधिकारी ने सभा में परिवहन मद के नाम पर 40 लाख रुपए देने के लिए संबंधित विभाग को पत्र लिखा। वरिष्ठ अधिवक्ता प्रशांत भूषण ने ट्वीट किया-आज आजमगढ़ में शाह : भीड़ जुटाने के लिए डीएम ने पीडब्ल्यूडी से दिलवाए 40 लाख, पसोपेश में कई अधिकारी! सरकारी पैसा पार्टी की रैली में भीड़ जुटाने के लिए किया जा रहा है! इस डीएम को तुरंत बर्खास्त किया जाना चाहिए। किसी दिन इन अधिकारियों की जवाबदेही जरूर तय होगी।

अमर उजाला अखबार ने इस संबंध में रिपोर्ट प्रकाशित की थी, जिसे लोगों ने खूब शेयर किया। अमर उजाला ने लिखा है कि किस प्रकार भीड़ जुटाने के लिए डीएम ने पीडब्ल्यूडी से दिलवाए 40 लाख।

जिला पार्षद हत्या : बिहार को यूपी-त्रिपुरा बना रही सरकार : तेजस्वी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*