UP : ‘जिन्ना’ पड़ा कमजोर, छा गया ‘तहजीब के नाम’, BJP परेशान

UP : ‘जिन्ना ‘ पड़ा कमजोर, छा गया ‘तहजीब के नाम’, BJP परेशान

चुनाव प्रचार करते हुए सपा प्रमुख अखिलेश का रथ और प्रियंका का काफिला आमने-सामने हो गया, फिर जो हुआ, उसकी खूब हो रही सराहना। परेशान हो गई BJP।

प्रियंका गांधी को देखकर प्रणाम करते अखिलेश और जयंत। प्रियंका भी नमस्कार कर रही है।

कुमार अनिल

चुनाव मैदान में अगर दो विरोधी नेताओं का खेमा आमने-सामने हो जाए, तो क्या होगा? अमूमन दोनों दलों के कार्यकर्ता एक-दूसरे से बढ़कर नारा लगाएंगे। भिड़ंत जैसा दृश्य हो जाएगा, कभी-कभी सचमुच दोनों दलों के कार्यकर्ता एक -दूसरे से भिड़ भी जाते हैं, लेकिन कल यूपी चुनाव में प्रचार के दौरान बुलंदशहर में जो हुआ, उसकी न सिर्फ यूपी में बल्कि हर जगह तारीफ हो रही है। बाद में अखिलेश यादव ने ट्वीट किया-तहजीब के नाम। जवाब में प्रियंका का ट्वीट था-हमारी भी आपको राम-राम। यूपी में इसकी खूब चर्चा हो रही है, इसके बाद भाजपा दो कारणों से परेशान हो गई है।

हुआ ये कि कल शाम बुलंदशहर में एक ही सड़क पर एक तरफ से सपा प्रमुख अखिलेश यादव का विजय रथ जा रहा था, तो दूसरी तरफ से प्रियंका गांधी रोड शो करती हुई काफिले के साथ आ रही थीं। दोनों तरफ बड़ी संख्या में कार्यकर्ता थे। जैसे ही प्रियंका गाधी का वाहन विजय रथ के सामने आया, प्रियंका गांधी ने अखिलेश यादव का हाथ हिलाकर स्वागत किया। फिर जवाब में अखिलेश यादव और जयंत चौधरी दोनों ने हाथ जोड़ कर अभिवादन किया। ऐसा करते ही जोर का शोर उठा। यह शोर झगड़े का नहीं, उल्लास का था। दोनों खेमे के कार्यकर्ता वीडियो बना रहे थे।

जैसे ही यह वीडियो सोशल मीडिया पर आया, वैसे ही वायरल हो गया। कई टीवी चैनलों ने भी बाद में इसे दिखाया। अब तक इस वीडियो को लाखों लोग विभिन्न स्रोतों से देख चुके हैं। जिस तरह दोनों खेमे के बड़े नेताओं ने एक -दूसरे के प्रति सम्मान दिखाया, मुस्करा कर स्वागत किया, उसकी खूब सराहना हो रही है। इससे पहले कांग्रेस के कई बड़े नेता सपा में जा चुके हैं। लेकिन सबकुछ भूलकर जिस तरह व्यवहार सामने आया, उसे लोग तहजीब की जीत बता रहे हैं।

उधर भाजपा दो कारणों से परेशान हो गई है। पहला, अखिलेश और प्रियंका के आमने सामने होने पर तहजीब की जीत कहीं-न-कहीं भाजपा नेताओं के व्यवहार की आलोचना में खड़ा हो जा रहा है। भाजपा नेता जिस तरह अखिलेश पर तल्ख व्यक्तिगत टिप्पणी करते हैं, उसका जवाब माना जा रहा है। उग्र भाषा, नेताओं के लिए अपशब्द के जवाब में तहजीब की जीत बताई जा रही है। भाजपा के परेशान होने की दूसरी वजह यह है कि क्या चुनाव बाद जरूरत पड़ने पर सपा और कांग्रेस साथ आ सकती है।

बाद में अखिलेश यादव ने ट्वीट किया-एक दुआ-सलाम – तहज़ीब के नाम। उधर प्रियंका ने भी जवाब दिया-हमारी भी आपको राम-राम। प्रियंका गांधी को देखकर प्रणाम करते अखिलेश और जयंत। प्रियंका भी नमस्कार कर रही है।

Hijab पहनी लड़कियों को प्रवेश से रोका, रो पड़ीं बेटियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*