यूपी में कांग्रेसियों ने लगाया नारा-चंदा चोर, गद्दी छोड़, कई गिरफ्तार

यूपी में कांग्रेसियों ने लगाया नारा-चंदा चोर, गद्दी छोड़, कई गिरफ्तार

अभी मोदी-योगी युद्ध चल ही रहा था कि ‘राम की तिजोरी का ताला’ तोड़ने का आरोप लग गया। यूपी की सड़कों पर लगा नारा-चंदा चोर, गद्दी छोड़।

यूपी में एक तूफान खत्म नहीं हो रहा है कि दूसरा बवंडर खड़ा हो जा रहा है। गंगा की रेत में दफनाए शवों का मामला चल ही रहा था कि मोदी और योगी में युद्ध छिड़ गया, अभी वह युद्ध समाप्त भी नहीं हुआ है कि श्रीराम की तिजोरी का ताला टूट गया।

अयोध्या में राम मंदिर के लिए दो करोड़ की जमीन को मंदिर निर्माण के लिए बने ट्र्स्ट ने 18 करोड़ में खरीदा। ट्र्स्ट के अधिकारियों ने पहले तो ढिठाई से जवाब दिया कि कोई घोटाला नहीं हुआ है, आप अपना काम करें, हम अपना करेंगे। लेकिन मामला तूल पकड़ने पर सफाई देते नजर आ रहे हैं कि पहली खरीद का बयाना बहुत पहले दिया गया था, इसलिए सस्ती जमीन बिकी, बाद में मार्केट रेट से मंदिर निर्माण के लिए जमीन खरीदी गई।

इस बीच कांग्रेस की महिला कार्यकर्ताओं ने आज लखनऊ में मुख्यमंत्री आवास के सामने प्रदर्शन किया। वे नारे लगा रही थीं-चंदा चोर, गद्दी छोड़। महिला कांग्रेस का यह आक्रामक नारा तुरत सोशल मीडिया में छा गया। प्रदर्शनकारी कांग्रेस की महिला कार्यकर्ताओं को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

चाचा के धोखे के बाद अब क्या करेंगे चिराग

प्रियंका गांधी ने ट्वीट किया-करोड़ों लोगों ने आस्था और भक्ति के चलते भगवान के चरणों में चढ़ावा चढ़ाया। उस चंदे का दुरुपयोग अधर्म है, पाप है, उनकी आस्था का अपमान है।

कांग्रेस ने कहा- सुप्रीम कोर्ट मंदिर निर्माण के चंदे के रूप में सारी प्राप्त राशि व खर्च का सुप्रीम कोर्ट के तत्वाधान में ऑडिट करवाए – मंदिर निर्माण हेतु चंदे से खरीदी गई सारी जमीन की कीमत के आकलन के बारे में भी जांच करे। यह भी बताया जा रहा है कि रवि मोहन तिवारी, जिन्होंने 2 करोड़ की जमीन 5 मिनट में 18.5 करोड़ में राम मंदिर ट्रस्ट को बेच डाली, वह भाजपा नेता ऋषिकेश उपाध्याय के रिश्तेदार हैं। ऋषिकेश अयोध्या के महापौर भी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*