उपेंद्र कुशवाहा का तीसरी बार राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष बनना तय

पूर्व केंद्रीय मंत्री उपेन्द्र कुशवाहा का राष्ट्रीय लोक समता पार्टी का तीसरी बार अध्यक्ष चुना जाना लगभग तय है। रालोसपा के अध्यक्ष पद के लिए आज नई दिल्‍ली में नामांकन पत्र दाखिल करने का अंतिम दिन था।

पार्टी के राष्ट्रीय चुनाव अधिकारी प्रमोद कुमार सुमन के अनुसार, शाम पांच बजे तक श्री कुशवाहा के अलावा किसी अन्य ने अध्यक्ष पद के लिए नामांकन पत्र नहीं दाखिल किया। कल नई दिल्‍ली में अध्यक्ष पद का चुनाव है । श्री कुशवाहा 2013 में पार्टी की स्थापना के बाद पहली बार अध्यक्ष बने थे । दूसरी बार उन्हें 2016 में अध्यक्ष चुना गया था ।

उधर, पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव और प्रवक्ता फजल इमाम मल्लिक ने बताया कि राष्ट्रीय परिषद की बैठक में नए अध्यक्ष का चुनाव किया जाएगा। राष्ट्रीय परिषद की बैठक में देश के विभिन्न प्रदेशों के अध्यक्ष, राष्ट्रीय परिषद के सदस्यों के अलावा विशेष आमंत्रित सदस्य हिस्सा लेंगे। श्री मल्लिक ने बताया कि पार्टी के सभी प्रमुख पदाधिकारी इस बैठक में मौजूद रहेंगे। बैठक में पार्टी प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा के अलावा उपाध्यक्ष शंकर झा आजाद, सुरेंद्र कुशवाहा, कोषाध्यक्ष राजेश यादव, महासचिव मालती कुशवाहा, राकेश प्रसाद सिंह, अंगद कुशवाहा, पार्टी की बिहार प्रदेश इकाई के अध्यक्ष भूदेव चौधरी, वरिष्ठ नेता वृषण पटेल, डा. विनोद यादव आदि मौजूद रहेंगे।

उन्होंने बताया कि रालोसपा का सांगठनिक चुनाव पिछले महीने संपन्न हुआ, जिसमें पंचायत से लेकर प्रदेश स्तर तक का चुनाव हुआ। बिहार प्रदेश अध्यक्ष के चुनाव की जिम्मेदारी आम राय से पार्टी प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा पर छोड़ दी गई है। राष्ट्रीय परिषद की बैठक में झारखंड, हरियाणा, महाराष्ट्र, तेलंगाना, पंजाब, तमिलनाडु, कर्नाटक, उत्तर प्रदेश तथा आंध्र प्रदेश सहित कई अन्य राज्यों के अघ्यक्ष भी हिस्सा लेंगे।

श्री मल्लिक ने बताया कि राष्ट्रीय परिषद की बैठक में देश की वर्तमान राजनीतिक हालात पर चर्चा होगी और भविष्य में पार्टी के कार्यक्रमों को तय किया जायेगा। दस नवंबर को बिहार के सभी जिला मुख्यालयों पर महागठबंधन के धरना-प्रदर्शन को लेकर भी बैठक में विचार-विमर्श किए जाने की उम्मीद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*