लालू प्रसाद ऐसा क्‍या बता रहे हैं जो नीतीश कुमार को छोड़ कर पूरी दुनिया को है पता

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद ने बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार को आज निशाने पर लिया है और अपने ट्विटर अकाउंट से उनपर तंज किया है। लालू ने नीति आयोग के सतत विकास लक्ष्य (एसडीजी) सूचकांक, 2018 में बिहार के पिछड़ने के हवाले से नीतीश कुमार पर निशाना साधा है।

lalu prasad – nitish kumar

नौकरशाही डेस्‍क

नीति आयोग की रिपोर्ट को आधार बनाते हुए लालू प्रसाद यादव के ट्विटर अकाउंट से लिखा गया है कि नीतीश को छोड़ कर पूरी दुनिया को पता है यह बात।

वैसे लालू प्रसाद इन दिनों चारा घोटाले के चार मामलों में सजायाफ्ता हैं और फिलवक्‍त रांची के रिम्‍स में अपनी गंभीर बीमारियों का इलाज करा रहे हैं। वहीं, सीबीआइ को ओर से उनकी जमानत याचिका पर बहस के लिए उच्‍च न्‍यायालय से समय लिया गया है। अब 4 जनवरी को लालू की जमानत याचिका पर सुनवाई होगी।

इसे भी देखें : नीति आयोग के सतत विकास लक्ष्य में पिछड़ा बिहार

लालू प्रसाद ने नीति आयोग के जिस रिपोर्ट का हवाला दिया है, उसके अनुसार – देश के राज्यों में सामाजिक, आर्थिक और पर्यावरण के संदर्भ में हुए विकास को आंकने के लिए नीति आयोग के एसडीजी इंडिया इंडेक्स-2018 में बिहार फिसड्डी साबित हुआ है। रिपोर्ट के मुताबिक स्वास्थ्य सेवा, भुखमरी दूर करने, लैंगिक समानता और गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य देने के मामले में केरल का कोई सानी नहीं है। वहीं हिमाचल स्वच्छ जल और साफ सफाई के मामले में सबसे बेहतर रहा।

राज्य ने लैंगिक अंतर दूर करने और हिमालीय पर्यावरण को संरक्षित रखने में भी सबसे बेहतर काम किया है। केंद्र शासित प्रदेशों की श्रेणी में चंडीगढ़ सबसे बेहतर रहा है। यह उपलब्धि शहर प्रशासन की ओर से लोगों को साफ पेयजल और साफ-सफाई की वजह से मिला है। वहीं गरीबी उन्मूलन के मामले में आंध्र प्रदेश,केरल, मेघालय, मिजोरम और तमिलनाडु शीर्ष के राज्यों में शामिल हैं। शून्य मुखमरी के लक्ष्य को हासिल करने गोवा,केरल, मणिपुर, मिजोरम और नगालैंड में उल्लेखनीय काम किया है।

 

About Editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*